होम /न्यूज /राजस्थान /

हाईवे पर अवैध वसूली का खेल! पुलिसकर्मी की टोपी में मिले 10 हजार रुपये, SI और 3 कांस्टेबल सस्पेंड

हाईवे पर अवैध वसूली का खेल! पुलिसकर्मी की टोपी में मिले 10 हजार रुपये, SI और 3 कांस्टेबल सस्पेंड

बीकानेर में हुये इस मामले में पुलिस अधीक्षक ने एक उपनिरीक्षक और तीन कांस्टेबलों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है.

बीकानेर में हुये इस मामले में पुलिस अधीक्षक ने एक उपनिरीक्षक और तीन कांस्टेबलों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया है.

राजस्थान में हाईवे पर अवैध वसूली का खेल: राजस्थान के बीकानेर जिले में पुलिस की अवैध वसूली (Illegal recovery) का खेल सामने आया है. यहां लूणकरणसर विधायक सुमित गोदारा (Lunkaransar MLA Sumit Godara) ने इस खेल को पकड़ा है. इस दौरान ट्रैफिक पुलिस की इंटरसेप्टर गाड़ी में एक पुलिसकर्मी की टोपी में दस हजार रुपये मिले. ग्रामीणों ने ये रुपये शिकायत पर मौके पर पहुंचे अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक को सौंप दिये हैं. पुलिस अधीक्षक ने इस मामले में एक सब इंस्पेक्टर और तीन कांस्टेबल को सस्पेंड कर दिया है.

अधिक पढ़ें ...

हाइलाइट्स

बीकानेर- श्रीगंगानगर हाईवे का मामला
इंटरसेप्टर गाड़ी लगाकर खड़े थे पुलिसकर्मी

बीकानेर. राजस्थान के बीकानेर में ट्रैफिक पुलिस द्वारा ट्रक चालकों से अवैध वसूली (Illegal recovery) का मामला सामने आया है. ट्रैफिक पुलिस की इस कारस्तानी को खुद जिले के लूणकरणसर विधायक सुमित गोदारा (Lunkaransar MLA Sumit Godara) ने पकड़ा है. इस दौरान पुलिसकर्मी की टोपी से 10 हजार रुपये बरामद हुये हैं. ये रुपये पुलिसकर्मियों की शिकायत के बाद मौके पर पहुंचे एएसपी को सौंप दिए गये हैं. पुलिस अधीक्षक ने इस मामले में त्वरित कार्रवाई करते हुये एक सब इंस्पेक्टर और तीन कांस्टेबलों को सस्पेंड कर दिया है. यह मामला सोशल मीडिया में भी खूब छाया हुआ है.

जानकारी के अनुसार लूणकरनसर विधायक सुमित गोदारा शुक्रवार को बीकानेर- श्रीगंगानगर हाईवे से आ रहे थे. इस दौरान उन्होंने किस्तुरिया गांव के पास ट्रैफिक पुलिस की इंटरसेप्टर गाड़ी खड़ी देखी. उन्होंने इंटरसेप्टर गाड़ी और वहां ट्रकों को खड़े देखा तो वे रुक गए. इंटरसेप्टर गाड़ी में चार पुलिसकर्मी थे. दो पुलिसकर्मियों ने ट्रकों को रुकवा रखा था. उन्होंने इंटरसेप्टर गाड़ी में सवार पुलिसकर्मियों से ट्रकों को रोकने का कारण पूछा.

मामला बढ़ने पर खिसकने लगे पुलिसकर्मी
इस पर पुलिसकर्मियों ने कहा कि वे किसी भी गाड़ी को रोक सकते हैं. इस पर विधायक का माथा ठनका. इसी दौरान वहां पर ग्रामीण भी पहुंच गए. पुलिसकर्मियों ने मामला बढ़ने पर वहां से खिसकने की कोशिश की. लेकिन ग्रामीणों ने उनको घेर लिया. इसके बाद लूणकरनसर विधायक ने पूरे घटनाक्रम की जानकारी बीकानेर रेंज पुलिस महानिरीक्षक ओमप्रकाश और पुलिस अधीक्षक योगेश यादव को दी.

गाड़ी में रखी एक पुलिसकर्मी की टोपी में मिले रुपये
इस पर पुलिस अधीक्षक ने अतिरिक्त पुलिस अधीक्षक (ग्रामीण) सुनील कुमार को मौके पर भेजा. एएसपी ने मौके पर जाकर विधायक और ग्रामीणों से समझाइश की. एएसपी के सामने ग्रामीणों ने यातायात शाखा की इंटरसेप्टर गाड़ी में रखी एक पुलिसकर्मी की टोपी से रुपये बरामद किए. उसमें दस हजार रुपये बताये जा रहे हैं. ग्रामीणों ने वे रुपये एएसपी को सौंप दिए. एएसपी सुनील कुमार ने पुलिस अधीक्षक को अपनी प्रारंभिक रिपोर्ट दे दी. उसके बाद पुलिस अधीक्षक ने एक उपनिरीक्षक और तीन कांस्टेबलों को तत्काल प्रभाव से सस्पेंड कर दिया. उल्लेखनीय है कि इससे पहले भी राजस्थान में ऐसा वाकया हो चुका है.

Tags: Bikaner news, Corruption case, Rajasthan news, Rajasthan police

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर