पाकिस्तान से कनेक्शन की आशंका में कबूतर 'गिरफ्तार', मेहमानवाजी में लगा राजस्थान पुलिस का जवान
Bikaner News in Hindi

पाकिस्तान से कनेक्शन की आशंका में कबूतर 'गिरफ्तार', मेहमानवाजी में लगा राजस्थान पुलिस का जवान
बीकानेर में संदिग्ध कबूतर को पुलिस ने अपने कब्जे में लिया है. (फाइल फोटो)

राजस्थान (Rajasthan) के बीकानेर (Bikaner) में एक संदिग्ध कबूतर (Suspected Pigeon) की मेहमाननवाजी इन दिनों पुलिस कर रही है.

  • Share this:
बीकानेर. राजस्थान (Rajasthan) के बीकानेर (Bikaner) में एक संदिग्ध कबूतर (Suspected Pigeon) की मेहमाननवाजी इन दिनों पुलिस कर रही है. कोरोना वायरस (Corona) के संक्रमण के खतरे और लॉकडाउन (Lockdown) के चलते संदिग्ध कबूतर ही जांच अटक गई है, लेकिन इस बीच पुलिस का एक जवान दिनरात कबूतर की देखभाल करने के लिए तैनात किया गया है. सुरक्षा एजेंसियों को इस कबूतर का कनेक्शन पड़ोसी देश पाकिस्तान से होने की आशंका है. इसी आशंका के चलते कबूतर को पुलिस ने अपने कब्जे में रखा है, लेकिन अब तक इसको लेकर जांच शुरू नहीं की जा सकी है.

बीकानेर के सीमावर्ती क्षेत्र छतरगढ़ में पुलिस पिछले दो महीनों से एक संदिग्ध कबूतर की मेहमान नवाजी में जुटी है. छतरगढ़ तहसील के मोतीगढ़ गांव में पुलिस ने एक संदिग्ध कबूतर बरामद किया था. इस कबूतर के पंखों पर संदेश और पैर में छल्ले बंधे थे. पुलिस ने इसकी सूचना गुप्तचर एजेन्सी को दे दी थी, लेकिन अभी तक जांच नहीं होने के कारण छतरगढ़ थाने के जवान विनोद को कबूतर की मेहमान नवाजी में तैनात किया गया है.

Rajasthan
संदिग्ध कबूतर की देखभाल के लिए जवान की ड‌्यूटी लगाई है.




पंख पर लिखा था- चारणपुर टू लाहौर



बीते 14 मार्च को मोतीगढ निवासी हाजी जमाल खान के घर एक संदिग्ध कबूतर पुलिस ने बरामद किया था, जिसके पैरों में छल्ला डाले हुए थे. इस कबूतर के पंखों पर मोहर लगी हुई थी, जिस पर चारणपुर टू लाहौर 225 किलोमीटर अंकित किया गया था. पुलिस ने उच्च अधिकारियों व आईबी, बीएसएफ को इसके बारे में सूचना दी थी, लेकिन लॉकडाउन के कारण कुछ एजेंसिया अभी तक जांच के लिए नहीं पहुची हैं. जिसके चलते पुलिस थाने का जवान विनोद इस कबूतर की मेहमान नवाजी कर रहा है. विनोद ने बताया की कबूतर के लिए दाने पानी की पूरी व्यवस्था की गई है. वहीं इसकी सुरक्षा का भी पूरा ध्यान रखा जा रहा है. बीकानेर एएसपी ग्रामीण सुनील कुमार ने बताया की कबूतर की अब तक की जांच में कुछ विशेष जानकारी नहीं मिली है, लेकिन सुरक्षा एजेंसियों के नहीं पहुचने तक थाना स्तर पर कबूतर को रखने की व्यवस्था की गई है. वही सुरक्षा एजेंसियों को जांच के लिए लिखा गया है.

ये भी पढ़ें:
कोरोना फैलने के डर से परिवार वाले नहीं छू रहे मृतकों का शव, ये 'योद्धा' कर रहे अंतिम संस्कार

Lockdown: जयपुर में इस साल नहीं होगी ईद और जुमातुल विदा की सामूहिक नमाज
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading