लाइव टीवी

बीकानेर: पुलिस ‘फेस डिटेक्शन’ के जरिए अपराधियों पर कसेगी नकेल, लगाए जाएंगे सार्वजनिक स्थानों पर कैमरे

Vikram Jagarwal | News18 Rajasthan
Updated: December 11, 2019, 2:04 PM IST
बीकानेर: पुलिस ‘फेस डिटेक्शन’ के जरिए अपराधियों पर कसेगी नकेल, लगाए जाएंगे सार्वजनिक स्थानों पर कैमरे
‘फेस डिटेक्शन’ तकनीक के जरिए बीकानेर पुलिस अपराधियों की करेगी धरपकड़ (सांकेतिक तस्वीर)

बीकानेर (bikaner) में अब ऐसे कैमरे लगाए जा रहे है, जो चेहरों की पहचान कर अपराधियों (criminals) को जेल के पीछे पहुंचाएंगे. ‘फेस डिटेक्शन’ तकनीक (Face Detection technique) के ये कैमरे वांछित अपराधियों की भीड़ में से पहचान करेंगे.

  • Share this:
बीकानेर. राजस्थान के बीकानेर में भी बड़े शहरों की तरह अपराधियों की धरपकड़ के लिए तंत्र को तकनीकी रूप से मजबूत किया जा रहा है. बीकानेर (bikaner) में अब ऐसे कैमरे लगाए जा रहे है, जो चेहरों की पहचान कर अपराधियों (criminals) को जेल के पीछे पहुंचाएंगे. ‘फेस डिटेक्शन’ तकनीक (Face Detection technique) के ये कैमरे वांछित अपराधियों की भीड़ में से पहचान करेंगे. इन कैमरों (cameras) को ऐसे सॉफ्टवेयर (Software) से जोड़ा जाएगा जो वांछित की छवि वाले लोगों की पहचान कर अभय कमांड सेंटर (Abhay Command Center) को सूचित भी करेगा. ऐसे कैमरे शहर में पांच प्रमुख सार्वजनिक स्थानों पर लगाए जा रह हैं.

इजरायल की तकनीक के तर्ज पर पुलिस रखेगी अपराधियों पर नजर

बीकानेर में ‘फेस डिटेक्शन’ कैमरे सार्वजनिक स्थानों की रिकार्डिंग करते रहेंगे. सॉफ्टवेयर में जिस व्यक्ति की फोटो (photo) डाली जाएगी, वो जब भी इन कैमरों के सामने से गुजरेगा. कैमरा उसकी खुद व खुद वीडियो रिकार्डिंग करेगा और अभय कमांड सेंटर को इसकी जानकारी देगा. सेंटर इसकी सूचना सम्बंधित थाने को भेज देगा. वह व्यक्ति जितनी बार और जितने कैमरों के सामने से गुजरेगा, उन सभी के अलग-अलग वीडियो बनेंगे. इससे अपराध कर भागने वाले लोगों की शीघ्रता से पहचान की जा सकेगी और पुलिस को अपराधियों तक पहुंचने में सहायता मिलेगी. इस तकनीक को इजरायल (Israel) में उपयोग में लिया जा रहा है, इसी तकनीक को यहां भी अपनाया गया है.

कैमरों के जरिए अभय कमांड सेंटर शहर की हर हलचल पर रखेगा नजर
कैमरों के जरिए अभय कमांड सेंटर शहर की हर हलचल पर रखेगा नजर


बीकानेर के पांच सार्वजनिक स्थानों पर लगाए जाएंगे ‘फेस डिटेक्शन’ कैमरे

शहर के पांच सार्वजनिक स्थानों पर कैमरे लगाने के लिए स्थान चिन्हित कर लिए गए हैं. इन कैमरों को फाइबर केबल से जोड़ा जाएगा, जिससे शहर की अन्य गतिविधियों पर भी अपेक्षाकृत ज्यादा नजर रखी जा सकेगी. लूट, डकैती, चैन स्नैचिंग, हत्या या गिरोह समेत अनेक अपराध कर भागने वालों पर लगाम लगेगी. आमतौर पर लूट या डकैती कर अपराधी शहर से बाहर भाग जाते हैं. घटना स्थल के आसपास के सामान्य कैमरों के वीडियो लेकर या फोटो लेकर सॉफ्टवेयर में डाले जाने के बाद शहर में पांच स्थानों पर लगे इन ‘फेस डिटेक्शन’ कैमरों की सहायता से उनका पता लगाया जा सकेगा. फिलहाल अभय कमांड सेंटर शहर की हर हलचल पर नजर रख रहा है.

यह भी पढ़ें- विरोध-प्रदर्शन के चलते राजस्‍थान के ज्‍यादातर थिएटरों से हटाई गई अर्जुन कपूर की 'पानीपत'यह भी पढ़ें- राजस्थान में 'पानीपत' को लेकर नहीं थमी लड़ाई, स्पेशल शो देखने के बाद भी विरोध जारी

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बीकानेर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: December 11, 2019, 2:04 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर