Home /News /rajasthan /

12 गोल्ड, 2 सिल्वर, 5 ब्रॉन्ज...! 3 फुट के शीशपाल और निशा के मेडल गिनते रह जाएंगे आप

12 गोल्ड, 2 सिल्वर, 5 ब्रॉन्ज...! 3 फुट के शीशपाल और निशा के मेडल गिनते रह जाएंगे आप

Inspirational Story: शीशपाल लिम्बा और उनकी पत्नी निशा लिम्बा ने डिस्कस थ्रो, शॉटपुट और जेवलिन थ्रो जैसे खेलों में लंबी उड़ान भरी है.

Inspirational Story: शीशपाल लिम्बा और उनकी पत्नी निशा लिम्बा ने डिस्कस थ्रो, शॉटपुट और जेवलिन थ्रो जैसे खेलों में लंबी उड़ान भरी है.

Bikaner Latest News: बीकानेर में रहने वाले और मूल रूप से हनुमानगढ़ निवासी नाटे कद के दंपति शीशपाल-निशा लिम्बा (Sheeshpal and Nisha Limba) ने पैरा गेम्स में बड़ी बुलंदियां हासिल की है. संसाधनों के अभाव में हौसले के बूते यह दंपति अब तक 12 गोल्ड, 2 सिल्वर और 5 कांस्य मेडल जीत चुका है. डिस्कस थ्रो, शॉटपुट और जेवलिन थ्रो जैसे खेलों में इन्होंने लंबी उड़ान भरी है.

अधिक पढ़ें ...

बीकानेर. राजस्थान के नाटे कद के एक दंपति ने पैरा खेलों (Para Games) में कमाल किया है. हनुमानगढ़ जिले के बीरमाणा गांव निवासी शीशपाल लिम्बा और उनको पत्नी निशा लिम्बा (Sheeshpal and Nisha Limba) ने अब तक देश व प्रदेश में खेल की दुनिया में 12 गोल्ड 2 सिल्वर और 5 कांस्य मेडल अपने नाम कर दुनिया को कम संसाधनों में बड़ी ऊंचाइयां छूने का हौसला दिखाया है.

भारत में खेलों में कई छिपी हुई प्रतिभाएं सामने आई हैं और उन्होंने दुनिया में देश का नाम रोशन किया है. हाल ही में देश के कई खिलाड़ियों को ओलपिंक और पैरा ओलपिंक जैसे खेलों में गोल्ड मेडल मिले. हम आपको एक ऐसे दंपति की कहानी बता रहे हैं जिन्होंने छोटे कद के होते हुए भी बड़ा नाम किया है.

दोनों हैं नाटे कद के एथलीट

इनका नाम है शीशपाल लिम्बा और उनकी पत्नी निशा लिम्बा. शीशपाल और निशा दोनों का कद तीन-तीन फुट के करीब है. लेकिन डिस्कस थ्रो, शॉटपुट और जेवलिन थ्रो जैसे खेलो में इन्होंने लंबी उड़ान भरी है. लिम्बा दंपति ने खेलों का सफर 2017 में उदयपुर में हुई राज्य स्तरीय खेल प्रतियोगिता से शुरू किया था. एक बार सफलता मिलने के बाद इस दंपति ने कभी पीछे मुड़कर नहीं देखा. शीशपाल एमए एलएलबी हैं और निशा अभी 12वीं की पढ़ाई कर रही हैं. निशा मूलरूप से दिल्ली की रहने वाली हैं. ये दोनों वर्तमान में बीकानेर में रह रहे हैं.

अब तक 12 गोल्ड, 2 सिल्वर और 5 कांस्य जीते

हाल ही में इस दंपति ने बेंगलुरु और पंचकुला में हुए राष्ट्रीय स्तर के पैरा खेल प्रतियोगियाओं में हिस्सा लिया. वहां अपने शहर का नाम देश में रोशन करते हुए दोनों ने कई मेडल अपने नाम किए. यह दंपति अब तक 12 गोल्ड, 2 सिल्वर और 5 कांस्य मेडल अपने नाम कर चुका है. यह बात दीगर है कि इन सबके लिए इनके सफर में कई तरह की दिक्कतें आई लेकिन इन्होंने उनका डटकर मुकाबला किया.

पैसे के अभाव में अच्छे कोच से प्रशिक्षण नहीं

लिम्बा दंपति की आर्थिक स्थिति अच्छी नहीं होने के कारण वे अच्छे कोच से प्रशिक्षण नहीं ले पा रहे हैं. पति और पत्नी अपने दम पर ही प्रैक्टिस करके देश का मान दुनिया में बढ़ा रहे हैं. लेकिन सरकारी मदद नहीं मिलने से इनकी प्रतिभा को वो मुकाम नहीं मिल पा रहा है जिसके ये हकदार हैं. दोनों का खर्च भी शीशपाल के भाई ही उठा रहे हैं. ऐसे में जरूरत है कि सरकार इन खिलाड़ियों की प्रतिभा को पहचान कर उचित मुकाम तक पहुंचाए.

Tags: Bikaner news, Rajasthan news, Sports news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर