Home /News /rajasthan /

uncle murders his nephew over illicit relations with his wife later aunt also committed suicide nodps

चाचा ने भतीजे को उतारा मौत के घाट तो चाची ने भी दे दी जान; प्रेम प्रसंग का दुखद अंत

पुलिस पूछताछ में आरोपी उदाराम मेघवाल ने हत्या करने का खुलासा किया है.

पुलिस पूछताछ में आरोपी उदाराम मेघवाल ने हत्या करने का खुलासा किया है.

Bikaner News: बीकानेर में सड़क किनारे मिले शव की जांच की गई तो खुलासा हुआ कि युवक की हत्या उसके चाचा ने की थी. मृतक युवक के उसकी चाची से अवैध संबंध थे. इसी के चलते आरोपी चाचा ने भतीजे को मौत के घाट उतार दिया था. इस हत्याकांड के बाद चाची ने ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी. उदाराम ने अपने भतीजे कुशलाराम को अपने खेत की ढाणी पर बुलाया. इसके बाद उसे मौत के घाट उतार दिया. हत्या के बाद उदाराम ने भतीजे का शव ऊंट गाड़े में डालकर भोजास गांव की सड़क पर फेंक दिया. अचानक सड़क पर कुशालराम का शव मिलने के बाद परिजन भड़क गए. इसको लेकर परिजनों ने आक्रोश जताना शुरू कर दिया. आक्रोश के समय उदाराम सबसे ज्यादा विरोध जता रहा था. इसी को लेकर पुलिस को उसपर शक गया. थानाधिकारी रामचंद्र ढाका ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने हत्या की वारदात को कबूल लिया. उदाराम की पत्नी को जब भतीजे की हत्या की जानकारी मिली तो चलती ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली.

अधिक पढ़ें ...

बीकानेर. राजस्थान के बीकानेर में युवक की मौत का खुलासा पुलिस ने कर दिया है. युवक के चाचा ने ही रविवार को उसे मौत के घाट उतारा था. दरअसल मृतक का उसकी चाची के साथ प्रेम प्रसंग चल रहा था. इस बात की जानकारी जब युवक के चाचा को लगी तो उसने अपने भतीजे की हत्या कर दी. पत्नी को जब अपने प्रेमी की हत्या के बारे में जानकारी मिली तो उसने भी बदनामी के डर से सोमवार को ट्रेन के आगे कूदकर जान दे दी. मामला बीकानेर के श्रीडूंगरगढ़ का बताया जा रहा है.

आरोपी चाचा ने अपना जुर्म कबूल लिया है. पुलिस पूछताछ में आरोपी ने हत्या करने का खुलासा किया है. पुलिस ने मामले की जानकारी देते हुए बताया कि मृतक कुशलाराम का अपनी चाची गौरादेवी के साथ लंबे समय से प्रेम प्रसंग चल रहा था. जब इस प्रेम प्रसंग की जानकारी कुशलाराम के चाचा उदाराम मेघवाल को पड़ी तो वह गुस्से से लाल हो गया. इसके बाद उदाराम ने कुशालराम की हत्या का प्लान बनाया.

खेत पर बुलाकार की हत्या
उदाराम ने अपने भतीजे कुशलाराम को अपने खेत की ढाणी पर बुलाया. इसके बाद उसे मौत के घाट उतार दिया. हत्या के बाद उदाराम ने भतीजे का शव ऊंट गाड़े में डालकर भोजास गांव की सड़क पर फेंक दिया. अचानक सड़क पर कुशालराम का शव मिलने के बाद परिजन भड़क गए. इसको लेकर परिजनों ने आक्रोश जताना शुरू कर दिया. आक्रोश के समय उदाराम सबसे ज्यादा विरोध जता रहा था. इसी को लेकर पुलिस को उसपर शक गया.

श्रीडूंगरगढ़ सीओ दिनेश कुमार और सेरुणा थानाधिकारी रामचंद्र ढाका ने उदाराम को पकड़कर जब पूछताछ शुरू की तो वह घबरा गया. थोड़ी देर तो वह पुलिस को गुमराह करता रहा. इसके बाद जब पुलिस ने सख्ती से पूछताछ की तो उसने हत्या की वारदात को कबूल लिया. पुलिस की पूछताछ में उदाराम ने अपने जुर्म को कबूल लिया है. वहीं उदाराम की पत्नी को जब भतीजे की हत्या की जानकारी मिली तो वह भी घबरा गई. उदाराम की पत्नी गौरादेवी ने सोमवार को चलती ट्रेन के आगे कूदकर आत्महत्या कर ली. वह बदनामी के डर के मारे सहम गई थी. पुलिस ने इस हत्याकांड का पूरा खुलासा कर दिया है. आरोपी उदाराम को भी गिरफ्तार कर लिया है. गौरा देवी का शव मॉर्च्यूरी में रखवाया गया है.

Tags: Bikaner news, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर