BJP का गहलोत सरकार पर निशाना, कहा- कांग्रेस के राज में दलितों पर बढ़ा अत्याचार
Jaipur News in Hindi

BJP का गहलोत सरकार पर निशाना, कहा- कांग्रेस के राज में दलितों पर बढ़ा अत्याचार
भाजपा नेताओं ने प्रदेश के आंकड़े मीडियो के सामने रखे हैं.

भाजपा (BJP) ने राजस्थान की अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) सरकार पर निशाना साधा है. भाजपा का आरोप है कि कांग्रेस (Congress) सरकार में दलितों (Dalits) पर अत्याचार के मामले बढ़े हैं.

  • News18Hindi
  • Last Updated: September 6, 2020, 7:44 PM IST
  • Share this:
जयपुर. भाजपा ने राज्य की गहलोत सरकार (Gehlot Government) पर गई गंभीर आरोप लगाए हैं. भाजपा के प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर (Madan Dilawar) और प्रदेश मंत्री जितेन्द्र गोठवाल ने प्रेस कांफ्रेंस कर कहा कि प्रदेश की अशोक गहलोत सरकार के राज में एससी- एसटी समुदाय के लोगों के खिलाफ अत्याचार के मामले बढ़े हैं. गोठवाल ने प्रेस कान्फ्रेंस में आंकडे़ सामने रखे और कहा कि कोरोना काल में एससी समुदाय के खिलाफ अत्याचार के 95 फीसदी मुकदमे ज्यादा दर्ज हुए हैं. भाजपा ने इस मामले को लेकर राज्यपाल को ज्ञापन भी सौंपा है और सरकार के खिलाफ आंदोलन की चेतावनी भी दी है.

दलितों पर अत्याचार के बहाने राजस्थान की कांग्रेस सरकार को भाजपा ने कटघरे में खडा कर दिया है. जयपुर स्थित भाजपा के प्रदेश मुख्यालय में रविवार को भाजपा की ओर से प्रेस कॉफ्रेंस की गई, जिसमें भाजपा के प्रदेश महामंत्री मदन दिलावर ने आरोप लगाया कि कांग्रेस के राज में दलितों पर अत्याचार बढ़ा है. पुलिस मुकदमे दर्ज नहीं कर रही है. दुष्कर्म के मामले में आदतन बताकर एफआर लगा दी जाती है तो वहीं, पैसे लेकर या देकर समझौते के लिए दबाव बनाया जाता है. मदन दिलावर ने इस दौरान विभिन्न जिलों में घटित मामलों को गिनाते हुए उदाहरण भी सामने रखे.

अंग्रेजों के जमाने के कानूनों को खत्म करेगी गहलोत सरकार, विधि विभाग से मांगी रिपोर्ट



मदन दिलावर ने कहा कि 2019 में दलितों पर अत्याचार के 6794 प्रकरण दर्ज हुए थे, जबकि, 2018 में 4602 प्रकरण दर्ज हुये. जो कि वर्ष 2018 के मुकाबले 47 फीसदी ज्यादा थे. वहीं, वर्ष 2020 में जनवरी से लेकर जुलाई तक 4998 मुकदमे दर्ज हुए हैं. दिलावर ने आरोप लगाया कि कोरोना काल में 95 फीसदी मुकदमे बढे हैं.
न्याय के लिए सड़क पर उतरेंगे दलित
वहीं, प्रदेश मंत्री जितेन्द्र गोठवाल ने चेतावनी देते हुए कहा कि जनता न्याय लेना जानती है. हम नहीं चाहते कि कोई स्थिति बिगडे, लेकिन, दलित सड़कों पर आ गए तो सरकार को दिक्कत होगी. उन्होंने सड़कों पर उतरने की चेतावनी भी दी. उन्होने कहा कि गूंगी बच्ची के साथ दुष्कर्म होने पर भी इस सरकार के राज में दुष्कर्म का मुकदमा दर्ज नहीं होता है. प्रेस कॉन्फ्रेंस के दौरान कांग्रेस सरकार पर अम्बेडकर पाठक को बंद करने का आरोप लगाया गया तो वहीं, ये भी बताया गया कि भाजपा ने दलितों पर बढ़ते अत्याचार को लेकर राज्यपाल को भी ज्ञापन सौंपा है. हालांकि, प्रेस कांफ्रेस के दौरान मदन दिलावर ने ये भी कहा कि हमारे पास सिर्फ राज्यपाल को ज्ञापन देने का ही रास्ता हैं. लेकिन, उसका कोई असर होता नजर नहीं आ रहा.

ये भी पढ़ें- कोरोना संकट: ऑक्सीजन की कमी से जूझ रहे हैं राजस्थान के अस्पताल, सिलेंडर की कालाबाजारी शुरू
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज