पायल रोहतगी 24 दिसंबर तक न्यायिक हिरासत में भेजी गई, गांधी-नेहरू परिवार पर की थी आपत्तिजनक टिप्पणी
Bundi News in Hindi

पायल रोहतगी 24 दिसंबर तक न्यायिक हिरासत में भेजी गई, गांधी-नेहरू परिवार पर की थी आपत्तिजनक टिप्पणी
पायल को कोर्ट में पेश करने से पूर्व बूंदी के कोर्ट परिसर को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया था. (फाइल फोटो)

राजस्थान (Rajasthan) की बूंदी पुलिस ने मोतीलाल नेहरू, जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी और गांधी-नेहरू परिवार के अन्य सदस्यों के खिलाफ आपत्तिजनक सामग्री (पोस्ट करने) के लिए अभिनेत्री पायल रोहतगी के खिलाफ गत 10 अक्टूबर को सूचना प्रौद्योगिकी (IT) कानून के तहत मामला दर्ज किया था.

  • Share this:
बूंदी. गांधी-नेहरू परिवार (Gandhi-Nehru Family) पर आपत्तिजनक टिप्पणी करने के मामले में बूंदी कोर्ट ने बॉलीवुड अभिनेत्री पायल रोहतगी (Payal Rohatgi) को 24 दिसंबर तक के लिए न्यायिक हिरासत में भेज दिया है. इस मामले में बूंदी पुलिस ने पायल को रविवार को अहमदाबाद से हिरासत में लिया था. बाद में पायल को बूंदी लाया गया था. सोमवार को सुबह गिरफ्तारी (Arrest) के बाद पायल को एसीजेएम कोर्ट में पेश किया गया, जहां सुनवाई के बाद उन्हें 8 दिन के लिए न्यायिक हिरासत में भेजने का आदेश दिया.

कोर्ट परिसर को किया पुलिस छावनी में तब्दील
पायल को कोर्ट में पेश करने से पूर्व बूंदी के कोर्ट परिसर को पुलिस छावनी में तब्दील कर दिया गया. कोर्ट में लोगों की भारी भीड़ उमड़ पड़ी. उसके बाद कड़े सुरक्षा प्रबंधों के बीच पायल को एसीजेएम कोर्ट में पेश किया गया. इस दौरान पायल के मंगेतर संग्राम सिंह भी कोर्ट पहुंचे. मीडिया से बातचीत करते हुए संग्राम सिंह ने कहा- 'हमें कोर्ट और पुलिस पर पूरा भरोसा है.' उन्होंने कहा यह केस अभिव्यक्ति की आज़ादी पर प्रहार है.

पायल ने खुद ट्वीट कर दी थी जानकारी
पायल ने रविवार को हिरासत में लिए जाने के बाद पीएम ऑफिस और गृह मंत्रालय को टैग करते हुए ट्वीट किया था. पायल ने ट्वीट कर बताया था, 'मुझे राजस्थान पुलिस ने मोतीलाल नेहरू पर विडियो बनाने के लिए गिरफ्तार कर लिया है, जिसके बारे में जानकारी गूगल से ली थी. फ्रीडम ऑफ स्पीच एक मजाक है.'



आइटी एक्ट में दर्ज हुआ था मामला
राजस्थान की बूंदी पुलिस ने मोतीलाल नेहरू, जवाहरलाल नेहरू, इंदिरा गांधी और गांधी-नेहरू परिवार के अन्य सदस्यों के खिलाफ आपत्तिजनक सामग्री (पोस्ट करने) के लिए अभिनेत्री पायल रोहतगी के खिलाफ गत 10 अक्टूबर को सूचना प्रौद्योगिकी (आईटी) कानून के तहत मामला दर्ज किया था. इस मामले में उन्हें इस महीने के प्रांरभ में एक नोटिस देकर जवाब देने के लिए कहा गया था.

ये भी पढ़ेंः

नेहरू परिवार पर टिप्पणी करना महंगा पड़ा एक्ट्रेस को, पुलिस ने लिया हिरासत में
भीलवाड़ा में 1 लाख रुपए की रिश्वत लेते कांस्टेबल और हेड कांस्टेबल गिरफ्तार
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading