लाइव टीवी
Elec-widget

बूंदी: खेत में लगे ट्यूबवेल का इंजन फटने से किसान की हुई मौत

News18 Rajasthan
Updated: November 14, 2019, 1:33 PM IST
बूंदी: खेत में लगे ट्यूबवेल का इंजन फटने से किसान की हुई मौत
खेत में पानी दे रहे किसान की इंजन फटने से हुई मौत (सांकेतिक तस्वीर)

बूंदी(Bundi) जिले में दिल-दहलाने वाला मामला सामने आया है, जहां एक किसान (farmer) की ट्यूबवेल का इंजन के फटने (Engine Bursted) से मौत (death) हो गई.

  • Share this:
बूंदी. राजस्थान के बूंदी(Bundi) जिले में दिल-दहलाने वाला मामला सामने आया है, जहां एक किसान (farmer) की ट्यूबवेल का इंजन के फटने (Engine Bursted) से मौत (death) हो गई. घटना के बाद परिजनो द्वारा घायल हालत में उपचार के लिए जिला अस्पताल लाया गया, जहां चिकित्सकों द्वारा किसान को मृत घोषित कर दिया गया. फिलहाल पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर शव परिजनों को सौंप दिया है.

खेत में पानी देने के दौरान फटा इंजन 

घटना जिले के फौलाई गांव की है. जानकारी के मुताबिक 40 बर्षीय किसान सावर लाल गुर्जर सुबह 5 बजे घर से खेत पर जाकर ट्यूबवेल का इंजन चला कर खेत (Farm) में पानी दे रहा था, तभी अचानक डीजल इंजन का पट्टा निकल गया. तेज गति से चल रहे इंजन को बंद करने के दौरान इंजन फट गया. हादसे में किसान गंभीर रूप से घायल हो गया. मौके पर मौजूद लोगों में घटना से सनसनी फैल गई, उन्होंने तुरंत इसकी जानकारी परिजनों को दी.

इलाज के दौरान किसान की हुई मौत

परिजनों ने मौके पर पहुंचकर किसान को गंभीर हालत में इलाज के लिए जिला अस्पताल में भर्ती कराया, लेकिन इलाज के दौरान डॉक्टर्स ने किसान को मृत घोषित कर दिया. पुलिस ने शव का पोस्टमार्टम कराकर परिजनों को सौंप दिया है. वहीं किसान की मौत के बाद पूरे इलाके में मातम पसर गया है.

( बूंदी से चैन सिंह की रिपोर्ट )

यह भी पढ़ें- बाल दिवस की पूर्व संध्या पर शर्मनाक वारदात, दौसा में 7 साल की मासूम से रेप
Loading...

यह भी पढ़ें- निकाय चुनाव से पहले BJP ने राजस्थान की गहलोत सरकार पर लगाए ये 16 गंभीर आरोप

यह भी पढ़ें- बाल दिवस: 180 मूक-बधिर व दृष्टिबाधित बच्चे दो दिन निःशुल्क घूमेंगे उदयपुर

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बूंदी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 14, 2019, 1:33 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...