लाइव टीवी

कड़ी सुरक्षा में पहली बार दलित बेटी की निकाली बिंदौरी, घोड़ी चढ़कर तोड़ी गांव की परंपरा

News18Hindi
Updated: May 14, 2019, 8:09 AM IST
कड़ी सुरक्षा में पहली बार दलित बेटी की निकाली बिंदौरी, घोड़ी चढ़कर तोड़ी गांव की परंपरा
फाइल फोटो

राजस्थान के बूंदी शहर के गुढ़ाबांध पंचायत में पहली बार किसी दलित लड़की की बिंदौरी निकाली गई. गूढ़ाबांध पंचायत की रामी गांव में बीते रविवार को दलित समाज की बेटी सुनीता रैगर की घोड़ी बड़ी ही ठाठ-बाट और शान-शौकत से निकाली गई.

  • Share this:
राजस्थान के बूंदी शहर के गुढ़ाबांध पंचायत में पहली बार किसी दलित लड़की की बिंदौरी निकाली गई. गूढ़ाबांध पंचायत की रामी की झोपड़ियां गांव में बीते रविवार को दलित समाज की बेटी सुनीता रैगर की घोड़ी बड़ी ही ठाठ-बाट और शान-शौकत से निकाली गई.

दलित समाज ने बिंदौरी निकालने के लिए पहले से ही स्थानीय प्रशासन से सुरक्षा मांग रखी थी. दलित समाज के लोगों ने इसके लिए जिले के एसडीएम को लिखित में सुरक्षा मांगी थी, जिसके बाद दलित समाज के लोगों को सुरक्षा प्रदान की गई थी.

बता दें कि जिस गांव की सुनीता रहने वाली है, उस गांव में रैगर समाज की पहली बार किसी बेटी को घोड़ी पर बिठाकर बिंदौरी निकाली गई है. सुनीता रैगर के पिता भागचंद रेगर का कहना था कि गांव में पहली बार ऐसा हुआ कि किसी बेटी को घोड़ी पर बिठाकर बिंदौरी निकाली गई. अब यह परंपरा टूट गई. हमारे गांव में पीढ़ियों से ऐसा पहले कभी नहीं हुआ था.

बता दें कि राजस्थान में आए दिन इस तरह की घटना होती रहती है कि दलित समाद की बिंदौरी निकाली गई तो उस गांव की ऊंची जातियों ने दलितों के साथ गलत बर्ताव किया. हालांकि, अब इस तरह की घटनाओं में काफी कमी आई है. देश की आजादी के 67 साल बाद भी लोगों की सोच नहीं बदली. मानसिक गुलामी हिंदुस्तान में अब भी जिंदा है. दलितों को अब भी सम्मान से जीने के अधिकार के लिए संघर्ष करना पड़ रहा है.

ये भी पढ़ें: मेहंदी लगा इंतजार करती रही दुल्हन, दहेज में बाइक ना मिली तो वापस ले गए बारात

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए बूंदी से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: May 14, 2019, 5:54 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...