Home /News /rajasthan /

haji munna abbasi has been bathing sheetla mata regularly since 50 years in keshavarayapatan of bundi communal harmony rjsr

शीतला माता को 50 बरसों से नियमित रूप से स्नान करवा रहे हैं हाजी मुन्ना अब्बासी, पढ़ें पूरी कहानी

शीतला माता मंदिर की सफाई करते हाजी मुन्ना अब्बासी.

शीतला माता मंदिर की सफाई करते हाजी मुन्ना अब्बासी.

शीतला माता के मुस्लिम भक्त की अनूठी कहानी: राजस्थान के बूंदी जिले के केशवरायपाटन कस्बे के हाजी मुन्ना अब्बासी (Haji Munna Abbasi) की कहानी बड़ी अनूठी और सांप्रदायिक सौहार्द्र की मिसाल है. हाजी मुन्ना अब्बासी बीते करीब 50 बरसों से शीतला माता (Sheetla Mata) की सेवा में जुटे हैं. वे नियमित रूप से माता के मंदिर की सफाई करते हैं और उन्हें पानी से स्नान करवाते हैं. शीतला माता की यह नियमित सेवा उनकी दिनचर्या में शामिल हो गई है. पढ़ृें पूरी कहानी.

अधिक पढ़ें ...

बूंदी. देश में जहां धार्मिक मुद्दों को लेकर हिन्दू और मुस्लिम समुदाय में आये दिन तनाव की खबरें आ रही है वहीं राजस्थान के बूंदी जिले में धार्मिक सोहार्द्र की अनूठी मिसाल सामने आयी है. बूंदी जिले की धार्मिक नगरी केशवरायपाटन में हाजी मुन्ना अब्बासी (Haji Munna Abbasi) नियमित रूप से हिन्दुओं की आराध्य देवी शीतला माता (Sheetla Mata) मंदिर की सफाई कर उनको स्नान करवाते हैं. हाजी मुन्ना ने यह काम कोई अभी शुरू नहीं किया है बल्कि वे पिछले 50 वर्षों से शीतला माता मंदिर की साफ सफाई कर उन्हें स्नान करवा रहे हैं.

हाजी मुन्ना नमाज के बाद नियमित रूप से शीतला माता मंदिर पहुंचकर वहां मंदिर की सफाई करते हैं. शीतला माता को नियमित रूप से स्नान करवाने वाले 80 वर्षीय हाजी मुन्ना अब्बासी भगवान केशव की नगरी केशवरायपाटन नगरपालिका के सेवानिवृत कर्मचारी हैं. बीते 50 वर्षों से वे शीतला माता की सेवा में जुटे हैं. वे नियमित रूप से अपने पोते के साथ बाइक पर बैठकर मंदिर आते हैं. हाजी मुन्ना अब्बासी मंदिर पहुंचकर पहले तो शीतला माता मंदिर की सफाई करते हैं. उसके बाद मंदिर में लगे नल से पानी भरकर शीतला माता को ठंडे पानी से स्नान करवाते हैं.

स्वच्छता का प्रतीक माना जाता है शीतला माता को
हिन्दू धर्म की मान्यता के अनुसार शीतला माता को स्वच्छता का प्रतीक माना जाता है. जो लोग स्वच्छता का ध्यान नहीं रखते उन्हें कई तरह की बीमारियों का सामना करना पड़ता है. शीतला माता के इसी संदेश जिम्मा पिछले 50 वर्षो से हाजी मुन्ना अब्बासी ने संभाल रखा है. भगवान केशव के दर्शन करने के लिए आने वाले श्रद्धालु अपने घर परिवार में चिकनपोक्स समेत शरीर पर होने वाली दानेनुमा रोग से मुक्ति के लिए शीतला माता को खुश रखने के लिए हाजी मुन्ना अब्बासी से शीतला माता को स्नान करवाते हैं. उसके बदले श्रद्धालु चढ़ावे स्वरुप कुछ राशि हाजी मुन्ना अब्बासी देते हैं.

शीतला माता को स्नान कराना दिनचर्या बन गया है
दिनचर्या इसी राशि से हाजी मुन्ना अब्बासी का घर खर्च चलता है. इस सबंध में हाजी मुन्ना अब्बासी का कहना है कि वे नियमित रूप नमाज पढ़ने के बाद शीतला माता मंदिर में आकर मंदिर की सफाई करते हैं. शीतला माता को स्नान करवाना उनकी दिनचर्या बन गई है. कभी कभार बीमार होने के कारण वे मंदिर नहीं आ पाते हैं तो उस दिन की शुरुआत अच्छी महसूस नहीं होती है.

लोग खुले दिल से करते हैं हाजी मुन्ना की प्रशंसा
केशवरायपाटन कस्बे के लोग भी खुले दिल से हाजी मुन्ना की तारीफ करते हैं. उनका कहना है की आये दिन देश और प्रदेश में मंदिर और मस्जिद को लेकर दोनों समुदाय के लोग आमने सामने हो जाते हैं. ऐसे में हाजी मुन्ना सांप्रदायिक सौहार्द्र की किसी मिसाल से कम नहीं है. मुन्ना अब्बासी हिन्दू मुस्लिम समुदाय के लोगों को नफरत त्याग कर मोहब्बत से रहने का संदेश भी दे रहे हैं.

Tags: Bundi, Rajasthan news, Religion, Religious Places

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर