Alert: राजस्थान में बढ़ते जा रहे हैं हनी ट्रैप केस, बूंदी पुलिस ने पकड़ा गिरोह, व्यापारी से मांगे थे 20 लाख

पुलिस ने आरोपियों को रंगे हाथ पकड़ने के लिये जाल बिछाया. उसके बाद पुलिस ने बुधवार को पीड़ित व्यापारी के हाथों 2 लाख रुपये आरोपियों तक पहुंचाये.

पुलिस ने आरोपियों को रंगे हाथ पकड़ने के लिये जाल बिछाया. उसके बाद पुलिस ने बुधवार को पीड़ित व्यापारी के हाथों 2 लाख रुपये आरोपियों तक पहुंचाये.

Honey trap case in Rajasthan: प्रदेश में अब लगातार ऐसे गिरोह सक्रिय होते जा रहे हैं जो व्यापारियों को हनी ट्रैप कर रहे हैं. बूंदी की सदर थाना पुलिस ने ऐसे ही एक गिरोह को पकड़ा है जो व्यापारी को रेप केस (Rape Case) में फंसाने की धमकी देकर उससे 20 लाख रुपये हड़पने की फिराक में था.

  • Share this:
बूंदी. राजस्थान में लगातार बढ़ रहे हनी ट्रैप (Honey trap) के मामलों के बीच बूंदी पुलिस ने ऐसे ही एक और गिरोह (Gang) को दबोचा है. पुलिस ने इस गिरोह में शामिल महिला और उसके दो साथियों को पकड़ा है. ये तीनों शहर की एक व्यापारी (Businessman) को हनीट्रेप में फांसकर उससे लाखों रुपये हड़पने की फिराक में थे. पुलिस ने आरोपियों को पीड़ित से 2 लाख रुपये लेते हुये दबोचा है. उनसे पूछताछ की जा रही है.

बूंदी शहर सदर थानाप्रभारी संदीप शर्मा ने बताया कि इस संबंध में शहर के एक उद्यमी ने 15 मार्च को वंदन उर्फ सपना और उसके साथियों सत्यनारायण चौधरी और पप्पू गुर्जर के खिलाफ मामला दर्ज कराया था. उसने अपनी रिपोर्ट में बताया कि कुछ माह पूर्व उसके मित्र पेट्रोल पंप संचालक सत्यनारायण चौधरी ने उसे शहर की नैनवा रोड निवासी विवाहिता वंदना उर्फ सपना से मुलाकात करवाई थी.

रेप केस में फंसाने की धमकी देकर 20 लाख रुपये मांगे

उसके बाद उन दोनों के बीच मेल मुलाकात होने लगी. फोन पर भी बातचीत का सिलसिला चल पड़ा. इस दौरान वह वंदना के साथ कई बार गाड़ी में घूमने भी गया. इसका फायदा उठाकर वंदना उर्फ सपना ने अपने दोनों साथियों के साथ मिलकर उसे ब्लैकमेल करना शुरू कर दिया. आरोपियों ने उससे 20 लाख रुपये की मांग की. रुपये नहीं देने पर रेप केस में फंसाने की धमकी.
पुलिस ने जाल बिछाकर आरोपियों को दबोचा

इस पर पीड़ित व्यापारी ने पुलिस की शरण ली और पूरा वाकया बताया. पुलिस ने आरोपियों को रंगे हाथ पकड़ने के लिये जाल बिछाया. उसके बाद पुलिस ने बुधवार को पीड़ित व्यापारी के हाथों 2 लाख रुपये आरोपियों तक पहुंचाये. इस लेन देने के दौरान पुलिस ने आरोपियों को दबोच लिया. पुलिस आरोपियों से और पूछताछ करने में जुटी है. पुलिस का मानना है कि संभवतया आरोपियों ने पहले भी इस तरह किसी को अपना शिकार बनाया होगा. इस लिहाज से भी उनसे कड़ी पूछताछ की जा रही है. उल्लेखनीय है प्रदेश में पूर्व में कई व्यापारियों को हनीट्रैप में फंसाने के मामले सामने आ चुके हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज