बूंदी में एक सप्ताह से रघुनाथ भगवान ताले में बंद

प्रजापति समाज और वैरागी समाज के बीच चल रहे विवाद के कारण भगवान को ताला मेें बंद होना पड़ा है. बूंदी जिले के रानीपुरा गांव में स्थित रघुनाथ मंदिर पर प्रशासन ने एक हफ्ते से ताला जड़ रखा है.

Chain Singh Tanwar | ETV Rajasthan
Updated: February 15, 2018, 9:38 PM IST
बूंदी में एक सप्ताह से रघुनाथ भगवान ताले में बंद
पिछले एक सप्ताह से रघुनाथ भगवान ताले में फोटो- ईटीवी
Chain Singh Tanwar | ETV Rajasthan
Updated: February 15, 2018, 9:38 PM IST
बूंदी जिले के रानीपुरा गांव में स्थित रघुनाथ मंदिर पर अधिकार को लेकर प्रजापति समाज और वैरागी समाज के बीच चल रहे विवाद का हल नहीं निकल पाया. इससे हरकत में आए पुलिस और प्रशासन ने मंदिर पर ताला जड़ कर रिसीवर नियुक्त करने की तैयारी कर ली हैं. इस विवाद के चलते पिछले एक सप्ताह से रघुनाथ भगवान ताले में बंद हैं.

रघुनाथ भगवान मंदिर पर कब्जे को लेकर प्रजापति समाज और पूजा करने वाले वैरागी समाज के आमने-सामने हो जाने से मंदिर को लेकर चल रहा विवाद शांत होने का नाम नहीं ले रहा है. मंदिर को लेकर चल रहे विवाद के चलते जहां प्रजापति समाज 184 वर्षो पूर्व उनके पूर्वजों द्वारा मंदिर को बनाए जाने की बात कह रहा है.  वैरागी समाज के लोग ने मंदिर भूमि का फर्जी पट्टा बनवा कर व उसमें पक्के मकान बनाने का प्रयास कर उस पर कब्जा करने का आरोप लगा रहे हैं. साथ ही में प्रशासन ने जिस नए पुजारी को रखा था उससे भी वैरागी समाज के लोगों ने मारपीट की और उसे भगा दिया.

लोग प्रशासन से वैरागी समाज के लोगों से मंदिर मुक्त करवाने की मांग कर रहे हैं. प्रशासन से उनकी मांग को नहीं माने जाने पर आंदोलन को प्रदेशव्यापी बना कर उग्र कर दिए जाने की चेतावनी भी दे रहे हैं. दूसरी तरफ मंदिर की वर्षो से उनके पूर्वजो द्वारा पूजा किए जाने से मंदिर उनका होने की बात कह रहे वैरागी समाज के लोग प्रजापति समाज पर जबरन उनसे मंदिर छीनने के आरोप लगाते हुए प्रशासन द्वारा रखे गए नए पुजारी से मारपीट करने की बात से इंकार कर मंदिर के लिए मर मिट जाने की बात कह रहे हैं.
News18 Hindi पर Bihar Board Result और Rajasthan Board Result की ताज़ा खबरे पढ़ने के लिए यहाँ क्लिक करें .
IBN Khabar, IBN7 और ETV News अब है News18 Hindi. सबसे सटीक और सबसे तेज़ Hindi News अपडेट्स. Rajasthan News in Hindi यहां देखें.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर