Home /News /rajasthan /

मां-भाई ने 4 बार बेचा, जबरन कराया देह व्यापार, युवती की गुहार पर मिली शादी की इजाजत

मां-भाई ने 4 बार बेचा, जबरन कराया देह व्यापार, युवती की गुहार पर मिली शादी की इजाजत

पुलिस पूछताछ में पीड़िता की मां और भाई ने पिछले 10 वर्षों से जबरन वेश्यावृति करवाये जाने की बात स्वीकार की है.

पुलिस पूछताछ में पीड़िता की मां और भाई ने पिछले 10 वर्षों से जबरन वेश्यावृति करवाये जाने की बात स्वीकार की है.

Bundi Crime News: बूंदी में एक मां इतनी निर्दयी हो गई कि उसने 10 साल तक अपने बेटी को देह व्यापार (Prostitution) के दलदल में धकेल कर रखा. मां की इस घिनौनी हरकत में उसका बेटा भी साथ देता रहा. युवती ने किसी तरह से इस दलदल से निकल कर घर बसाना चाहा तो मां उसे झूठे मुकदमें में फंसा दिया. लेकिन पुलिस ने जब युवती को पकड़ा तो पूरे मामले का खुलासा हुआ.

अधिक पढ़ें ...

बूंदी. बूंदी जिले के दबलाना थाना इलाके की 24 वर्षीय युवती ने अपनी मां, भाई और बहन पर दो दलालों को चार बार बेचकर 10 वर्ष तक जबरन देह व्यापार (Prostitution) कराने का आरोप लगाया है. युवती ने जब अपनी दर्द भरी दास्तां व्यक्त की तो उसे सुनकर बाल कल्याण समिति के सदस्य भी चौंक गए. युवती ने बताया कि उसको 14 वर्ष की उम्र में मां कमला, भाई रोहित और बहन हंसा ने दलाल मोरपाल को बेचकर वेश्यावृति के दलदल में धकेल दिया. वेश्यावृत्ति से परेशान होकर उसने कंजर बस्ती के एक युवक से जुलाई माह में आर्य समाज के मंदिर में शादी कर ली. वह खुशीपूर्वक दाम्पत्य जीवन बिताना चाह रही है.

पीड़िता ने दबलाना थाने में रिपोर्ट दर्ज करवाई थी लेकिन पुलिस ने आरोपियों के खिलाफ कोई कार्रवाई नहीं की. परेशान होकर वह अपने पति के साथ वह मुंबई चली गई. इस दौरान उसकी मां ने किसी तरह हिण्डोली तहसीलदार और भवानीपुरा ग्राम पंचायत के ग्राम विकास अधिकारी से उसके नाबालिग होने का झूठा जन्म प्रमाण-पत्र जारी करवाकर हिण्डोली थाने में अपहरण का मुकदमा दर्ज करवा दिया. हरकत में आई पुलिस ने उसे गिरफ्तार कर लिया. जांच में सामने आया कि युवती बालिग है. पुलिस ने उसे बाल कल्याण समिति को सुपुर्द किया. समिति के सामने पीड़िता ने जो कहानी बताई, वह हैरान कर देने वाली थी.

बालिग होने के दस्तावेज पेश किए
पीड़ित युवती ने अपनी दर्दभरी दास्तां बताई और बालिग होने के दस्तावेज पेश किए. युवती को पति के साथ जीवन बिताने की गुजारिश की है जिसे समिति ने स्वीकार कर लिया. पीड़िता ने कहा कि वह वेश्यावृत्ति के दलदल से निकलकर अपने पति और परिवार के साथ शांतिपूर्ण तरीके से अपना जीवन बिताना चाहती है. वह वेश्यावृति के दलदल में फंसी अन्य युवतियों को इससे बाहर निकलने के लिये प्रेरित कर समाज के लिए एक मिसाल कायम करना चाहती है.

मां-भाई ने स्वीकारी वेश्यावृत्ति कराने की बात
दूसरी ओर मां-भाई और बहन ने पिछले 10 वर्षों से जबरन वेश्यावृति करवाये जाने की बात स्वीकार की है. युवती के 164 के बयानों के साथ करवाये गये मेडिकल में उसकी उम्र 24 वर्ष होना सामने आया है. युवती के बालिग होने के कारण उसे अपने पति के साथ रहने के लिए अनुमति दे दी है। बहरहाल पिछले 10 वर्षों से जबरन वेश्यावृति करवाए जाने से परेशान होकर शादी करने वाली युवती ने अपना घर बसा लिया है.

Tags: Crime in Rajasthan, Rajasthan latest news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर