किसानों की फसलों के लिए खतरा बनी टिड्डियों से निपटने बना ये प्लान, प्रशासन ने संभाला मोर्चा
Bundi News in Hindi

किसानों की फसलों के लिए खतरा बनी टिड्डियों से निपटने बना ये प्लान, प्रशासन ने संभाला मोर्चा
कोरोना संकट के बीच राजस्थान में फिर से टिड्डी टेरर की शुरुआत हो गई है. (सांकेतिक तस्वीर )

राजस्थान (Rajasthan) के बूंदी जिले में हिंडोली उपखंड क्षेत्र के ग्राम नेगढ़ टिड्डी दल ने किसानों समेत प्रशासन की भी चिंता बढ़ा दी है.

  • Share this:
बूंदी. राजस्थान (Rajasthan) के बूंदी जिले में हिंडोली उपखंड क्षेत्र के ग्राम नेगढ़ टिड्डी दल ने किसानों समेत प्रशासन की भी चिंता बढ़ा दी है. टिड्डियों के दल को रोकने के लिए उप निदेशक कृषि विभाग एवं उनकी टीम के अलावा तहसीलदार हिंडोली, गिरदावर एवं पटवारी मौके पर पहुंचे. मौके पर फायर ब्रिगेड द्वारा क्लोरोपायरीफोस दवा का छिड़काव (स्प्रे) किया गया. ताकि जल्द ही टिड्डियों पर नियंत्रण किया जा सके. टिड्डियां फसलों को नुकसान पहुंचा रही है. इसके साथ ही आम लोगों को भी इससे परेशानी हो रही है.

एसडीएम मुकेश कुमार चोधरी से मिली जानकारी के अनुसार बूंदी जिले में टिड्डी दल आने की पूर्व सूचना पर प्रशासन पहले से ही सतर्क हो गया था. ऐसे में क्षेत्र में गेंहू की फसल के कट जाने के कारण किसानों के अधिकतर खेतों के खाली होने से अधिक नुकसान की आशंका नहीं है, लेकिन उक्ट टिड्डी दल के सब्जी उत्पादक क्षेत्र मांगली कला.बङानयागांव और चतरगंज क्षेत्र की ओर बढ़ने की स्थिति में किसानों की सब्जियों में नुकसान पहुचा सकती हैं, जिसके चलते टिड्डियो के खैराड क्षेत्र के नेगढ़ खैरखटा और रामपुरिया गांव में प्रवेश करते हुए आधा किलोमीटर क्षेत्र में फैलने की सूचना मिलते ही हिण्डोली तहसीलदार केसर सिंह कृषि अधिकारियों, बसोली थाना पुलिस और दमकल को साथ लेकर खैराड क्षेत्र के लिए रवाना हो गये थे.

दवा का छिड़काव
बीते मंगलवार की रात नेगढ़ ग्राम पंचायत क्षेत्र में पहुंच कर प्रशासन ने मोर्चा संभाला. इसके बाद टिड्डियों को मारने और भगाने के लिए मध्य रात्रि को टिड्डियो के पेड़ों पर बैठ जाने के बाद क्लोरोपायरीफोर्स दवा का छिड़काव किया जाएगा. एसडीएम मनोज ने बताया कि क्लोरोपायरीफोर्स दवा के अत्यंधिक विशेषी होने से दवा के सम्पर्क में आते ही टिड्डियो के मर जाने से टिड्डियों के सब्जी उत्पादक क्षेत्र मांगली कला, बड़ानयागांव और चतरगंज की और आगे बढ़ने का खतरा समाप्त हो जायेगा.



ये भी पढ़ें:


Lockdown में यहां कुत्ते खा रहे चिकन बिरयानी, खिचड़ी और खीर, दिन के हिसाब से तय है मेन्यू

बिहार में प्रवासी मजदूरों को भी मिलेगा काम, सरकार कर रही 1.10 लाख लोगों के रोजगार का इंतजाम!
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज

corona virus btn
corona virus btn
Loading