लाइव टीवी

चित्तौड़गढ़: बारूद के ढेर पर शहर, बिना लाइसेंस के व्यापारियों ने खोल दी पटाखे की कई दुकान

Piyush Mundara | News18 Rajasthan
Updated: October 23, 2019, 12:57 PM IST
चित्तौड़गढ़: बारूद के ढेर पर शहर, बिना लाइसेंस के व्यापारियों ने खोल दी पटाखे की कई दुकान
आगजनी जैसी घटनाओं से निपटने के लिए सुरक्षा यंत्र भी दुकानों में पर्याप्त मात्रा में नहीं लगाए गए हैं.

हर साल जिला प्रशासन के आदेेश के अनुसार आतिशबाजी की दुकानों के लिए लाइसेंस (License) का आंवटन (Allotment) किया जाता है. इसके तहत शहरी क्षेत्रों में दुर्घटनाओं (Accidents) के मद्देनजर सिमित दुकानें ही खोली जाती हैं, लेकिन इस साल प्रशासन द्वारा ध्यान नहीं देने से आतिशबाजी की छोटी-बड़ी कई दुकानें खुल गई हैं.

  • Share this:
चित्तौड़गढ़. राजस्थान (Rajasthan) के चित्तौड़गढ़ (Chittorgarh) जिले में दीपावली (Deepawali) पर्व (Festival) को लेकर शहर के बाजार सजने लगे हैं. व्यापारियों ने नियम-कानून को ताक पर रख कर आतिशबाजी की दुकानें (Fireworks Shop) लगा दी हैं. इस तरह शहर को एक तरह से बारूद के ढेर पर रख दिया गया है.

हर साल जिला प्रशासन (District administration) के आदेेश के अनुसार आतिशबाजी की दुकानों के लिए लाइसेंस (License) का आंवटन (Allotment) किया जाता है. इसके तहत शहरी क्षेत्रों में दुर्घटनाओं (Accidents) के मद्देनजर सिमित दुकानें (Limited Shops) ही खोली जाती हैं, लेकिन इस साल प्रशासन द्वारा ध्यान नहीं देने से शहरी क्षेत्र में आतिशबाजी की छोटी-बड़ी कई दुकानें खुल गई हैं.

ऐसी स्थिति में उन दुकानों पर आगजनी जैसी घटनाओं से निपटने के लिए सुरक्षा यंत्र (Safety device) भी पर्याप्त मात्रा में नहीं लगाए गए हैं. ऐसे में यदि गलती से आगजनी की घटना हो जाती है तो बारूद के ढेर के रूप ये दुकानें कभी भी बड़ी दुर्घटना का कारण बन सकती हैं.

ये भी पढ़ें:- रसोई में गैस सिलेंडर भभकने से हुआ बड़ा हादसा, 4 बच्चे समेत 6 लोग घायल

हत्या के बाद शव को सड़क किनारे फेंक फरार हुए बदमाश.. ऐसे चढ़े पुलिस के हत्थे

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चित्तौड़गढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: October 23, 2019, 12:30 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...