लाइव टीवी

राजस्थान में भारी बारिश से 4 जिलों में बाढ़, 72 लोगों को वायुसेना ने बचाया

Bhasha
Updated: August 22, 2016, 5:32 PM IST
राजस्थान में भारी बारिश से 4 जिलों में बाढ़, 72 लोगों को वायुसेना ने बचाया
बाढ़ के पानी में डूबी बाइक.

प्रदेश के चार जिलों बारां, प्रतापगढ़, चित्तौड़गढ़ और झालावाड़ में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है.

  • Bhasha
  • Last Updated: August 22, 2016, 5:32 PM IST
  • Share this:
राजस्थान में भारी बारिश के चलते प्रदेश के चार जिलों बारां, प्रतापगढ़, चित्तौड़गढ़ और झालावाड़ में बाढ़ की स्थिति उत्पन्न हो गई है.
वायुसेना ने पिछले दो दिनों में पानी में फंसे 72 लोगों को सुरक्षित बाहर निकाला है. राहत आपदा प्रबंधन सचिव रोहित कुमार के अनुसार ‘बारां में बाढ की स्थिति से निपटने के लिये सेना, राष्ट्रीय आपदा मोचन बल (एनडीआरएफ) और आरएसी को तैनात किया गया है. भारतीय वायुसेना ने बारां और प्रतापगढ़ जिलों से शनिवार से रविवार तक कई लोगों को एयरलिफ्ट कर सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है.’
उन्होंने बताया, ‘बारां में बाढ़ की स्थिति से निपटने के लिये सेना, एनडीआरएफ और आरएसी को, जबकि चित्तौड़गढ़ में एनडीआरएफ और आरएसी, वहीं झालावाड़ में एनडीआरएफ और प्रतापगढ़ में आरएसी को बचाव कार्य में लगाया गया है.'
रक्षा प्रवक्ता मनीष ओझा ने बताया, ‘पिछले लगभग 48 घंटों में प्रदेश के बाढ प्रभावित क्षेत्रों के अलग-अलग स्थानों से भारतीय वायुसेना ने 72 लोगों को सुरक्षित स्थानों पर पहुंचाया है.’ शनिवार बारां जिले के छबड़ा तहसील के कवई थाना क्षेत्र के फूलबडोदा गांव में बाढ़ के पानी से घिरे एक दो मंजिला मकान का पिछला हिस्सा ढह जाने से छह लोगों की मलबे में दब कर मौत हो गई.

थानाधिकारी भंवरसिंह जादौन ने रविवार को बताया कि दो मंजिला मकान का एक हिस्सा ढह जाने से दो बच्चों, तीन महिलाओं समेत छह लोगों की मौत हो गई थी. चार लोग घायल हो गये जिन्हें कवई के राजकीय चिकित्सालय में भर्ती कराया गया है.
उन्होंने कहा कि मृतकों की पहचान लक्ष्मीनारायण ढीमर (माली, 72), उनकी पत्नी शांति बाई ढीमर (70), दीपू ढीमर (18), अनिता बाई ढीमर (26), ऐश्वर्या (दस माह), सूरज (नौ) के रूप में की गई है.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चित्तौड़गढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: August 22, 2016, 5:32 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर