'पद्मावत' पर रोक नहीं लगाने पर क्षत्रिय महिलाओं ने दी जौहर की धमकी

'पद्मावती' का नाम बदलकर 'पद्मावत' कर देने और इसमें पांच संशोधन करने के बावजूद इसकी रिलीज को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है.

आईएएनएस
Updated: January 14, 2018, 6:04 PM IST
'पद्मावत' पर रोक नहीं लगाने पर क्षत्रिय महिलाओं ने दी जौहर की धमकी
'पद्मावती' का नाम बदलकर 'पद्मावत' कर देने और इसमें पांच संशोधन करने के बावजूद इसकी रिलीज को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है.
आईएएनएस
Updated: January 14, 2018, 6:04 PM IST
संजय लीला भंसाली की फिल्म 'पद्मावती' का नाम बदलकर 'पद्मावत' कर देने और इसमें पांच संशोधन करने के बावजूद इसकी रिलीज को लेकर विवाद थमने का नाम नहीं ले रहा है. अब इस विवाद में एक नया मोड़ आ गया है. चित्तौड़गढ़ की महिलाओं ने सरकार द्वारा फिल्म की रिलीज पर रोक नहीं लगाने पर जौहर (आग में कूदना) करने की धमकी दी है. चित्तौड़गढ़ में आयोजित सर्वसमाज बैठक में सदस्यों ने फिल्म की प्रस्तावित रिलीज के खिलाफ बड़े पैमाने पर विरोध प्रदर्शन करने का फैसला किया. बैठक में करीब 500 लोग शामिल हुए, जिसमें शहर के उच्च घरानों से ताल्लुक रखने वाली 100 महिलाएं शामिल हुईं.

महिलाओं ने फिल्म की रिलीज पर रोक नहीं लगने पर शनिवार को जौहर करने की धमकी दी. राजपूत करणी सेना के प्रवक्ता वीरेंद्र सिंह ने कहा कि 17 जनवरी को पूरे चित्तौड़गढ़ में राष्ट्रीय राजमार्गो, रेलवे ट्रैक को जाम कर दिया जाएगा. फिल्म को सेंसर बोर्ड से मंजूरी मिल चुकी है और यह पूरे भारत में 25 जनवरी को रिलीज होने जा रही है. राजस्थान सरकार ने हालांकि राज्य में इसे रिलीज नहीं करने का फैसला किया है.

बता दें कि पद्मावत का नाम पहले पद्मावती था लेकिन राजपूत संगठनों के प्रदर्शन के बाद सेंसर बोर्ड ने इसमें बदलाव किया. फिल्‍म को लेकर काफी बवाल भी हुआ. विरोध कर रहे लोगों ने कई विवादित और हिंसक बयान भी दिए. इसमें दीपिका पादुकोण की नाक काटने और संजय लीला भंसाली को मारने की धमकियां भी दी गई. इसके बाद कई राज्‍यों ने रिलीज पर रोक लगा दी थी.

ये भी पढ़ें

रिलीज की खातिर आखिरकार 'पद्मावती' का नाम 'पदमावत' हो ही गया...
राजस्थानः 17 जनवरी से पद्मावत के खिलाफ नए सिरे से प्रदर्शन
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर