लाइव टीवी

चित्तौड़गढ़ः डोडा चूरा तस्करी मामले में युवक को 5 साल की जेल

PK Agarwal | ETV Rajasthan
Updated: July 27, 2016, 8:28 PM IST
चित्तौड़गढ़ः डोडा चूरा तस्करी मामले में युवक को 5 साल की जेल
फाइल फोटो

चित्तौड़गढ़ मे डोडा चूरा तस्करी के मामले में न्यायालय विशिष्ठ न्यायाधीश विक्रांत गुप्ता ने तस्करी के आरोपी को बुधवार 5 साल के कठोर कारावास और 50 हजार रुपए के अर्थदण्ड की सजा सुनाई.

  • Share this:
चित्तौड़गढ़ मे डोडा चूरा तस्करी के मामले में न्यायालय विशिष्ठ न्यायाधीश विक्रांत गुप्ता ने तस्करी के आरोपी को बुधवार 5 साल के कठोर कारावास और 50 हजार रुपए के अर्थदण्ड की सजा सुनाई.

विशिष्ठ लोक अभियोजक अर्जुनलाल तिवारी ने बताया कि 26 जून 2008 को तत्कालीन भादसोड़ा थानाधिकारी गिरिराज गर्ग को लुहारिया निवासी किशन जाट के अपने जीजा के साथ चकतिया में एक खेत पर होने की सूचना मिली.

आरोपित की गिरफ्तारी के लिए चकतिया निवासी नाथू पुत्र मोतीलाल अहीर के खेत पर दबिश दी गई, यहां कमरे में एक व्यक्ति था जो वांछित नहीं होकर अन्य निकला. वह पुलिस को देख कर भागने लगा.

पुलिस ने तलाशी ली तो कुल 35 किलो पीसा हुआ डोडा चूरा जब्त किया. पुलिस ने एनडीपीएस एक्ट के तहत मामला दर्ज कर नाथू अहीर को गिरफ्तार कर लिया. जांच के बाद 22 अगस्त 2008 को न्यायालय में चालान पेश किया गया.

मामले में विशिष्ठ न्यायाधीश विक्रांत गुप्ता ने फैसला सुनाते हुए अभियुक्त नाथू अहीर को दोषी माना. न्यायालय ने नाथू अहीर को पांच वर्ष के कठोर कारावास व 50 हजार रुपए के अर्थदण्ड की सजा सुनाई.

अभियोजन पक्ष की ओर से न्यायालय में सुनवाई के दौरान 14 गवाह व 24 दस्तावेज पेश किए गए.

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चित्तौड़गढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: July 27, 2016, 8:28 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर