लाइव टीवी

बारिश का कहर: इस स्‍कूल में 24 घंटों से फंसे हैं 400 बच्चे और शिक्षक

Piyush Mundara | News18 Rajasthan
Updated: September 15, 2019, 6:37 PM IST
बारिश का कहर: इस स्‍कूल में 24 घंटों से फंसे हैं 400 बच्चे और शिक्षक
चित्तौड़गढ़ में स्कूल में फंसे बच्चे और शिक्षक राहत दल पहुंचने का इंतजार कर रहे हैं. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।

राजस्थान (Rajasthan) के कई इलाकों में हो रही मूसलाधार बारिश (Heavy rain) के कारण चित्तौड़गढ़ जिले (Chittorgarh ) में करीब 400 स्कूली बच्चों और शिक्षकों की सांसें अटकी हुई हैं.

  • Share this:
चित्तौड़गढ़. राजस्थान (Rajasthan) के कई इलाकों में हो रही भारी बारिश (Heavy rain) ने चित्तौड़गढ़ जिले (Chittorgarh) में करीब 400 स्कूली बच्चों और शिक्षकों की सांसें अटका रखी हैं. जिले के रावतभाटा (Rawatbhata) उपखंड में भैंसरोडगढ़ इलाके के एक निजी स्कूल में 350 से अधिक छात्र और 50 शिक्षक बीते 24 घंटों से वहां फंसे (Stuck) हुए हैं. जिला प्रशासन (District Administration) इन तक पहुंचने में विफल रहा है. स्थानीय स्तर पर ग्रामीण इन बच्चों और स्कूल स्टाफ की मदद कर रहे हैं.

राणाप्रताप सागर बांध के गेट खोलने से बिगड़े हालात
जिला मुख्यालय से करीब 150 किलोमीटर दूर भैंसरोडगढ़ उपखंड मुख्यालय के पास मऊपुरा में स्थित आदर्श विद्या मंदिर में हर दिन की भांति शनिवार को भी बच्चे पढ़ने के लिए पहुंचे थे. उसके बाद कुछ बच्चे एक कार्यक्रम में भाग लेने के लिए विद्यालय आ गए. उसके बाद इलाके में मूसलाधार बारिश शुरू हो गई. इसके चलते पानी की मात्रा बढ़ने के कारण राणाप्रताप सागर बांध के गेट खोल दिए गए. इससे रावतभाटा और भैंसरोडगढ़ को जोड़ने वाली पुलिया पर पानी भर गया. पुलिया अभी भी डूबी हुई है. ऐसे में ये स्कूली बच्चे और शिक्षक स्कूल में ही फंसे हुए हैं.

ग्रामीण कर रहे हैं भोजन-पानी की व्यवस्था

ग्रामीण उनके लिए भोजन-पानी की व्यवस्था कर रहे हैं. प्रशासनिक अमला अभी तक मौके पर नहीं पहुंच सका है. प्रशासन द्वारा बिना कोई अलर्ट दिए ही राणाप्रताप सागर बांध के गेट खोल दिए गए थे. स्कूली बच्चों और शिक्षकों ने ग्रामीणों के भरोसे ही वहां रात गुजारी है. भोजन-पानी लिए वे ग्रामीणों पर आश्रित हैं. वहीं तेज बारिश के चलते इस इलाके में बिजली और पेयजल की आपूर्ति भी ठप है. एक तरफ बच्चे और शिक्षक स्कूल में परेशान हो रहे हैं, वहीं दूसरी तरफ उनके परिजनों की चिंताएं लगातार बढ़ रही हैं.

ये भी पढ़ें:

विदाई से पहले बारिश ने मचाया कोहराम, 5 जिलों में बाढ़ के हालात, सेना बुलाई
Loading...

बारिश ने फिर मचाई तबाही, कोटा बैराज के सभी 19 और माही बांध के 16 गेट खोले

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चित्तौड़गढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 15, 2019, 2:56 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...