लाइव टीवी

चित्तौड़गढ़ में पकड़ा गया विलुप्त प्रजाति का सांप, कोबरा से भी है दस गुना विषैला

News18 Rajasthan
Updated: September 23, 2019, 8:09 PM IST
चित्तौड़गढ़ में पकड़ा गया विलुप्त प्रजाति का सांप, कोबरा से भी है दस गुना विषैला
स्नेक कैचर अखिलेश टेलर सांप को पकड़ते हुए

राजस्थान के चित्तौड़गढ़ में सोमवार को कोबरा से भी दस गुना विषैला विलुप्त प्रजाति के एक सांप को पकड़ा गया है. वन्यजीव प्रेमी इसे अच्छा संकेत बता रहे हैं.

  • Share this:
चित्तौड़गढ़. शहर में वैसे तो बरसात के मौसम में आए दिन खेत- खलिहानों और घरों के आसपास सांप निकलने की घटनाएं सामने आती रहती हैं, लेकिन सोमवार को शहर में विलुप्त प्रजाति का सांप निकलने से वन्य जीव प्रेमी रोमांचित हो उठे. यह सांप कोबरा से भी दस गुना ज्यादा विषैला ( poisonous snake ) है. इस सांप के काटने पर इंसान की तुरंत मौत हो जाती है. दुर्ग मार्ग स्थित आयकर विभाग के कार्यालय पीछे सांप निकलने की सूचना पर दुर्ग निवासी स्नेक कैचर अखिलेश टेलर अपने साथियों के साथ सांप का रेस्क्यू करने पहुंचे. सांप को पकड़ने के बाद वन विभाग (forest department) के कार्यालय में लाया गया.

महाराष्ट्र में देखने को मिलते हैं ऐसे सांप

आम तौर पर कोबरा की तरह दिखने वाले इस सांप की पूंछ का रंग में बदला हुआ है.

विलुप्त प्राय इस सांप के पकड़े जाने से वन्यजीव प्रेमी हैं खुश


इस सांप को वन्य जीवों के नजरिए से कॉमन रेड स्नेक कहा जाता है, जो महाराष्ट्र में देखने को मिलता है. राजस्थान सहित अन्य प्रदेशों के लिए सांप की यह विलुप्त प्रजाति मानी जाती है. यह सांप कोबरा से भी दस गुना ज्यादा विषैला होता है, जिसके काटने पर तुरंत इंसान की मौत हो जाती है. विलुप्त प्रजाति का सांप मिलने से वन्य जीव प्रेमी सहित वन विभाग भी इसे वन्य जीवों के दृष्टिकोण से अच्छे संकेत बता रहे हैं.

(रिपोर्ट- पीयूष मुंदरा)

ये भी पढ़ें- बहू को लहूलुहान कर गांव के बाहर फेंक ससुराल वाले हुए फरार, पुलिस कर रही तलाश
Loading...

विवाहिता की मौत के बाद चुपके से कर दिया अंतिम संस्कार, लगा हत्या का आरोप

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चित्तौड़गढ़ से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 23, 2019, 7:55 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...