लाइव टीवी

शेखावाटी के तीन युवकों समेत 14 लोग मस्कट में फंसे, वतन वापसी की गुहार, वीडियो वायरल

Manoj K. Sharma | News18 Rajasthan
Updated: April 12, 2019, 1:07 PM IST

रोजगार के लिए मस्कट गए शेखावाटी के तीन युवकों समेत विभिन्न राज्यों के 14 लोग वहां भीख मांग कर अपना पेट पालने को मजबूर हैं. ये युवक जिस कंपनी में काम करने गए थे वो कंपनी बंद हो चुकी है. कंपनी मालिक फरार है और इन 14 लोगों के वीजा जब्त हो चुके हैं.

  • Share this:
रोजगार के लिए मस्कट गए शेखावाटी के तीन युवकों समेत विभिन्न राज्यों के 14 लोग वहां भीख मांग कर अपना पेट पालने को मजबूर हैं. ये युवक जिस कंपनी में काम करने गए थे वो कंपनी बंद हो चुकी है. कंपनी मालिक फरार है और इन 14 लोगों के वीजा जब्त हो चुके हैं.

अलवर में तेज गति से जा रही कार डंपर में घुसी, पांच लोगों की दर्दनाक मौत, तीन घायल

मस्कट में फंसे युवकों का विडियो अब सोशल मीडिया में वायरल हो रहा है. वीडियो में ये युवक विदेश मंत्री सुषमा स्वराज, पीएम नरेन्द्र मोदी और कांग्रेस अध्यक्ष राहुल गांधी से वतन वापसी की गुहार कर रहे हैं. मस्कट में फंसे इन लोगों में तीन चूरू जिले की रतनगढ़ तहसील के युवक भी शामिल हैं. इनमें रतनगढ़ के डूंगरराम, मोहम्मद सलीम और सोहनलाल शामिल हैं. इनके अलावा 11 लोग पंजाब, केरल, उत्तरप्रदेश, उड़ीसा, आंध्रप्रदेश, पश्चिम बंगाल और तमिलनाडू के हैं.

अलवर में चुनावी नुक्कड़ सभा में मंत्रमुग्ध हुए बाबा बालकनाथ, समर्थकों के साथ झूमे

वर्ष 2015 में गए थे विदेश
जानकारी के अनुसार से सभी 14 लोग वर्ष 2015 में आजीविका के लिए मस्कट (ओमान) स्थित हुसैन फादिल एंड पार्टनर कंपनी में नौकरी करने गए थे. नियमानुसार दो वर्ष पूरे होने पर वर्ष 2017 इन्होंने कंपनी के अधिकारी से भारत आने के लिए कह. इस पर अधिकारियों ने मस्कट में ही वीजा बढ़ाने का आश्वासन दिया और कहा कि इसके लिए भारत जाने की आवश्यकता नहीं है. ये कहकर कंपनी ने एक वर्ष का समय निकाल दिया. धोखे में रखकर ना तो वीजा का समय बढ़ाया और ना ही भारत वापस भेजा. बाद में वेतन, पानी, बिजली व भोजन सहित अन्य जरूरी सुविधाएं बंद कर दी.

अजमेर में सात युवकों पर दुष्कर्म का आरोप, पुलिस ने एक व्यक्ति को लिया हिरासत में
Loading...

दूतावास से नहीं मिला कोई संतोषजनक जवाब
अब ये सभी 14 लोग इधर-उधर से मांगकर भोजन का जुगाड़ कर रहे हैं. कभी-कभी तो भूखे ही सोना पड़ता है. वायरल विडियो में ये लोग बता रहे है कि दर्जनों बार मस्कट स्थित भारतीय दूतावास में संपर्क कर भारत भेजने की गुहार लगा चुके हैं. वहां से कोई संतोषजनक जवाब नहीं मिला. इसके अलावा केंद्र सरकार में विदेश मंत्री सुषमा स्वराज को अपने दस्तावेज ई-मेल करके परेशानी से अवगत करवा चुके हैं, लेकिन मगर कोई जवाब नहीं मिला.

लोकसभा चुनाव-2019: बाड़मेर से बसपा प्रत्याशी बर्खास्त IPS पंकज चौधरी का नामांकन खारिज

राजस्थान में राहुल ने मंत्रियों को दिया जीत का टारगेट, प्रत्याशी हारा तो छिनेगा मंत्री पद

लोकसभा चुनाव-2019: बागियों के प्रति बीजेपी का कड़ा रुख, कहा- अभी कांग्रेस को है जरूरत

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चूरू से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: April 11, 2019, 5:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...