Home /News /rajasthan /

जैविक खेती कर खुद अपने नाम का गेहूं-बाजरा बेचेंगे किसान

जैविक खेती कर खुद अपने नाम का गेहूं-बाजरा बेचेंगे किसान

चूरू में जैविक खेती की शुरुआत, अब अपने ब्रांड का जैविक गेहूं-बाजरा बेचेंगे किसान

चूरू में जैविक खेती की शुरुआत, अब अपने ब्रांड का जैविक गेहूं-बाजरा बेचेंगे किसान

चूरू जिले में कृषि विभाग की योजना के मुताबिक सैंकड़ों किसान आगामी वर्षों में खुद के ब्रांड के नाम से जैविक गेहूं-बाजरा या अन्य फसलें बेच सकेंगे.

राजस्थान के चूरू जिले में कृषि विभाग की योजना के मुताबिक सैंकड़ों किसान आगामी वर्षों में खुद के ब्रांड के नाम से जैविक गेहूं-बाजरा या अन्य फसलें बेच सकेंगे. अपने ब्रांड की इस जैविक फसल के सामान्य गेहूं-बाजरा से करीब तीन गुना अधिक भाव मिलने से किसानों की आर्थिक स्थिति भी मजबूत होगी, इसके लिए कृषि विभाग ने परंपरागत कृषि विकास योजना के तहत किसानों से वृहद स्तर पर जैविक खेती करवाने का काम हाथ में लिया है.

कृषि अधिकारियों के मुताबिक योजना के तहत जिले में 300 कलस्टर बनाकर किसानों से फसलों की जैविक खेती करवाई जाएगी, प्रत्येक कलस्टर 20 हैक्टयेर का होगा, ऐसे में जिलेभर में कुल 6 हजार हेक्टेयर में जैविक गेहूं, बाजरा, चना, सरसों या अन्य फसलों की खेती करवाई जाएगी. कृषि अधिकारियों का कहना है कि जिले के किसानों में जैविक खेती के प्रति रूझान भी बढ़ रहा है क्योंकि जैविक खेती में किसानों को कम लागत में उत्तम गुणवत्ता की फसल प्राप्त होती है.

तीन साल तक कृषि विभाग की निगरानी में जैविक खेती करने के बाद विभाग किसान को जैविक उत्पाद तैयार करने का सर्टिफिकेट देगा, इसके बाद किसान अपनी फसल का ब्रांड बनाकर बाजार में बेच सकेगा. इतना ही नहीं इस योजना के तहत जैविक खेती अपनाने वाले किसानों को विभाग की ओर से जैविक खाद, बीज, कीटनाशक और प्रशिक्षण भी नि:शुल्क मुहैया करवाए जाएगा.

किसान को अपने खेत में वर्मी कम्पोस्ट यूनिट तैयार करनी होगी, इसके लिए विभाग की ओर से पांच हजार रुपए का अनुदान देय होगा, जैविक खेती के दौरान तीन साल तक प्रति वर्ष कलस्टर की मिट्टी व पौधों की जांच की जाएगी, इससे जैविक खेती शुरू करने से पहले डाले गए रासायनिक उर्वरकों की मात्रा में आने वाली गिरावट का स्तर पता चलेगा, बता दें कि किसी भी मिट्टी में रासायनिक उर्वरक का असर तीन साल तक रहता है.

यह भी पढ़ें-  कोटा फल सब्जी मंडी में अव्यवस्था को लेकर नाराज किसानों ने किया हंगामा

यह भी देखें- सैकड़ों किसानों ने डाला सुजानगढ़ कृषि उपज मंडी के गेट पर पड़ाव

यह भी देखें-  ग्रामीण डाक सेवकों ने किया चूरू में प्रदर्शन

Tags: Churu news, Department of Agriculture, Rajasthan latest news, Rajasthan news

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर