अपना शहर चुनें

States

Big News: कोरोना फ्री हुआ चूरू, जिले में अब एक भी एक्टिव केस नहीं

चूरू जिले में 28 मार्च को भांगीवाद गांव में कोरोना संक्रमण का पहला मामला सामने आया था.
चूरू जिले में 28 मार्च को भांगीवाद गांव में कोरोना संक्रमण का पहला मामला सामने आया था.

राजस्थान के लिये बड़ी राहत की खबर है. प्रदेश का चूरू जिला कोरोना मुक्त (Corona freed) हो गया है. अब यहां कोई एक्टिव केस (No any active case) नहीं है.

  • Share this:
चूरू. करीब 10 महीने के लंबे कोरोना काल (Corona era) के बाद राजस्थान के चूरू जिले से एक राहत भरी खबर आई है. चूरू जिला पूरी तरह से कोरोना मुक्त (Corona freed) हो गया है. जिले में अब कोरोना का एक भी एक्टिव केस नहीं है. बीते 13 दिनों में चूरू में कोई पॉजिटिव केस भी नहीं मिला है. राजस्थान में वैक्सीनेशन शुरू होने और लोगों की सजगता के बाद कोरोना का वायरस अब धीरे-धीरे दम तोड़ने लगा है. यही वजह रही कि प्रदेशभर में जहां कोरोना के नये केसों की संख्या में लगातार कमी आ रही है, वहीं चूरू राज्य का पहला ऐसा जिला बन गया है जहां अब कोरोना के एक्टिव मरीजों की संख्या शून्य हो गई है.

चूरू जिले में इस साल की शुरुआत में कोरोना के नये केस बेहद कम आये हैं. जो केस पॉजिटिव आये वो भी अब ठीक होकर घर जा चुके हैं. पिछले 13 दिनों में यहां नये कोरोना मरीजों की संख्या शून्य रही है. चूरू जिले में कोरोना काल शुरू होने से लेकर अब तक 4377 कोरोना पॉजिटिव केस पाये जा चुके हैं. इनमें से 41 पीड़ितों की मौत हो गई, जबकि शेष सभी 4336 मरीज कोरोना महामारी से ठीक हो चुके हैं.

जिले में 28 मार्च को आया था पहला पॉजिटिव केस
चूरू जिले में 28 मार्च को भांगीवाद गांव में कोरोना संक्रमण का पहला मामला सामने आया था. सितंबर के बाद तो रोज 50 से अधिक कोरोना पॉजिटिव केस सामने आने लगे, लेकिन दिसंबर के बाद कोरोना के मामले धीरे-धीरे कम होने लग गये. नए साल के पहले महीने में 4-5 पॉजिटिव केस ही सामने आये. वो भी रिकवर होकर घर जा चुके हैं. मेडिकल कॉलेज की लैब से पिछले 12 दिनों में एक भी व्यक्ति जांच में पॉजिटिव नहीं मिला.
जिले के लिए बड़ी राहत


जिला मुख्यालय के डेडराज भरतीया राजकीय अस्पताल के अधीक्षक डॉ. एफएच गौरी ने बताया कि ऐसा 10 महीने में ऐसा पहली बार हुआ है जब जिले में एक भी कोरोना का एक्टिव मरीज नहीं है. उन्होंने कहा कि ये जिले के लिए बड़ी राहत की बात है.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज