पॉक्सो एक्ट में मामला दर्ज होने के बावजूद आजाद है दुष्कर्मी, मां-बेटी को जान से मारने की दे रहा धमकी

दुष्कर्म का आरोपी पीड़िता और उसकी मां को न सिर्फ जान से मारने की धमकी दे रहा है बल्कि खौफ के साये में जी रही पीड़िता की मां ने भी आरोपी की दबंगई से परेशान होकर आत्महत्या कर लेने की चेतावनी दी है.

  • Share this:
चूरू जिले के तारानगर थाने में नाबालिग को अगवा कर बंधक बनाने और दुष्कर्म के प्रयास मामले में पुलिस की कार्यशैली पर सवाल खड़े किए जा रहे हैं. आईपीसी की संगीन धाराओं और पॉक्सो एक्ट में मामला दर्ज होने के बावजूद तारानगर पुलिस की लचर कार्रवाई के चलते अब आरोपी न केवल पीड़िता और उसकी मां को जान से मारने की धमकी दे रहा है बल्कि खौफ के साये में जी रही पीड़िता की मां ने भी आरोपी की दबंगई से परेशान होकर आत्महत्या कर लेने की चेतावनी दी है. बता दें कि पीड़िता की मां सरकारी स्कूल में टीचर है. हालांकि चूरू एएसपी प्रकाश शर्मा की दखल के बाद हरकत में आई तारानगर पुलिस ने अब जाकर बालिका का मेडिकल करवाया और उसके बयान दर्ज किए हैं.

मां-बेटी ने एएसपी से लगाई न्याय की गुहार

आरोपी टीचर की नाबालिग बेटी के साथ जब तब छेड़छाड़ करता रहता है.




दरअसल एक सप्ताह पहले तारानगर थाने में गांव चंगोई के आरोपी मुकेश जाट के खिलाफ मामला दर्ज कराया गया था कि उसने एक नाबालिग बालिका को नशीला पदार्थ पिलाकर उसे अगवा कर लिया. फिर उसने उस नाबालिग को एक कमरे में बंधक बना लिया और उससे दुष्कर्म का प्रयास किया. पीड़िता का आरोप है कि पुलिस में मामला दर्ज कराए जाने के बाद से ही आरोपी उसे और उसकी मां को लगातार जान से मार देने की धमकी दे रहा है. साथ ही वह सरेआम उनके साथ अश्लील हरकतें कर रहा है.
इस मामले में अब सरकारी स्कूल टीचर ने अपनी बेटी के साथ चूरू एएसपी से न्याय की गुहार लगाई है. शिक्षिका ने बताया कि चंगोई गांव का एक आवारा युवक हवाई फायर कर उन्हें डरा धमका रहा है. साथ वह जब तब उसकी नाबालिग बेटी के साथ छेड़छाड़ करता रहता है.

ये भी पढ़ें - 35 करोड़ के गबन के आरोपी टीचर ने कोर्ट में किया सरेंडर

ये भी पढ़ें - राखी के त्योहार में बांधिए गाय के गोबर से बनी राखियां
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज