Home /News /rajasthan /

पुलिस एनकाउंटर में मारा गया कुख्यात अपराधी आनंदपाल

पुलिस एनकाउंटर में मारा गया कुख्यात अपराधी आनंदपाल

राजस्थान पुलिस को शनिवार देर शाम एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. पुलिस ने प्रदेश के कुख्यात अपराधी आनंदपाल सिंह को चूरू के रतनगढ़ तहसील के मालासर में एनकाउंटर में मार गिराया है.

राजस्थान पुलिस को शनिवार देर शाम एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. पुलिस ने प्रदेश के कुख्यात अपराधी आनंदपाल सिंह को चूरू के रतनगढ़ तहसील के मालासर में एनकाउंटर में मार गिराया है.

राजस्थान पुलिस को शनिवार देर शाम एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. पुलिस ने प्रदेश के कुख्यात अपराधी आनंदपाल सिंह को चूरू के रतनगढ़ तहसील के मालासर में एनकाउंटर में मार गिराया है.

    राजस्थान पुलिस को शनिवार देर शाम एक बड़ी कामयाबी हाथ लगी है. पुलिस ने प्रदेश के कुख्यात अपराधी आनंदपाल सिंह को चूरू के रतनगढ़ तहसील के मालासर में एनकाउंटर में मार गिराया है.

    बताया जा रहा है मुठभेड़ के दौरान आनंदपाल ने एके-47 से करीब 100 राउंड फायर किए. वहीं जवाबी फायरिंग में पुलिस की 6 गोलियां उसके सीने में धंसी हैं और उसकी मौके पर ही मौत हो गई.

    इस पुलिस एनकाउंटर की पुष्टि राजस्थान के डीजीपी मनोज भट्ट ने कर दी है. साथ ही खबर है कि आनंदपाल के शव को जयपुर लाया जा रहा है.

    इस मुठभेड़ में पुलिस ने दो अन्य बदमाशों को भी गिरफ्तार किया है, जिनका नाम देवेंद्र और गट्टू बताया जा रहा है. इसके अलावा मुठभेड़ में पुलिस का एक जवान भी घायल हुआ है.

    आपको बता दें कि आनंदपाल 5 लाख रुपए का इनामी बदमाश था और पुलिस इसकी गिरफ्तारी के लिए लगातार प्रयास कर रही थी, लेकिन उसके हाथ खाली ही रह रहे थे. आनंदपाल के एनकाउंटर के बाद पुलिस महकमे ने राहत की सांस ली है.

    आनंदपाल 2006 में अपराध जगत में शामिल हुआ था. उसी साल उसने राजस्थान के डीडवाना में जीवनराम गोदारा की गोलियों से भूनकर हत्या कर दी थी. गोदारा की हत्या के अलावा आनंदपाल के नाम डीडवाना में ही 13 मामले दर्ज थे, जहां 8 मामलों में कोर्ट ने आनंदपाल को भगौड़ा घोषित किया हुआ था.

    विज्ञापन
    विज्ञापन

    राशिभविष्य

    मेष

    वृषभ

    मिथुन

    कर्क

    सिंह

    कन्या

    तुला

    वृश्चिक

    धनु

    मकर

    कुंभ

    मीन

    प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
    और भी पढ़ें
    विज्ञापन

    टॉप स्टोरीज

    अधिक पढ़ें

    अगली ख़बर