• Home
  • »
  • News
  • »
  • rajasthan
  • »
  • चार मासूमों के कातिल पिता को हुई उम्रकैद, वर्ष 2015 में गला रेतकर की थी हत्या

चार मासूमों के कातिल पिता को हुई उम्रकैद, वर्ष 2015 में गला रेतकर की थी हत्या

पिता गुलाब खां ने नींद में सो रहे अपने चार बच्चों की हत्या चाकुओं से गला रेतकर कर दी थी.

पिता गुलाब खां ने नींद में सो रहे अपने चार बच्चों की हत्या चाकुओं से गला रेतकर कर दी थी.

चार मासूमों की निर्ममता से हत्या (Murder four kids) करने के आरोपी कातिल पिता (Murderer Father) को आज चूरू जिला एवं सेशन कोर्ट ने आजीवन कारावास की सजा सुनाई. 6 दिसम्बर 2015 रविवार को चूरू जिले के सरदारशहर कस्बे के वार्ड 40 में यह दिल दहला देने वाली वारदात हुई थी.

  • Share this:
चूरू. चार मासूमों की निर्ममता से हत्या (Murder) करने के आरोपी कातिल पिता को आज चूरू जिला एवं सेशन कोर्ट (District and session Court) ने आजीवन कारावास (Life Imprisonment) की सजा सुनाई. साल 2015 के दिल झकझोर देने वाले इस बहुचर्चित मामले में जिला एवं सेशन न्यायधीश अयूब खान ने आरोपी गुलाब खां सिक्का को मासूमों का कातिल करार देते हुए अपना फैसला सुनाया है. 11 गवाहों के बयानों और साक्ष्य के आधार पर कोर्ट ने गुलाब खां को दोषी माना है.

6 दिसंबर 2015 को हुई थी हत्या

आपको बता दें कि 6 दिसम्बर 2015 रविवार को चूरू जिले के सरदारशहर कस्बे के वार्ड 40 में यह दिल दहला देने वाली वारदात हुई थी. आरोपी गुलाब सिक्का की पत्नी उसे छोड़कर चली गयी थी, पीछे से आरोपी पिता गुलाब सिक्का ने नींद में सो रहे अपने चार बच्चों की चाकू से गला काटकर हत्या कर दी थी और फरार हो गया था.

रेहड़ी चलाकर परिवार का भरण-पोषण करता था

हत्यारा गुलाब सिक्का रेहड़ी चालक था. रविवार की सुबह 8 साल की शहनाज, 6 साल के आरिफ, चार साल की चीकू व और 2 साल के बाबू के खून से लथपथ शव पुलिस को मिले थे. मृतकों में तीन बेटियां व एक बेटा शामिल था. पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी गुलाब खां सिक्का शराबी था और रेहड़ी चलाता था.

आरोपी गुलाब का पत्नी से हुआ था झगड़ा

गुलाब सिक्का का निकाह वारदात से दस वर्ष पहले जयपुर निवासी दौलत के साथ हुआ था. निकाह के बाद पति-पत्नी के बीच झगड़े होने लगे. 2 दिसंबर 2015 को दौलत जयपुर चली गई थी. इस दौरान गुलाब बच्चों को संभालता था और मजदूरी भी करने जाता था. 5 दिसम्बर की शाम वह बच्चों के लिए बिस्कुट लेकर आया था और रोटियां बनाकर बच्चों को खिलाई. उसने रविवार तड़के पांच-छह बजे के बीच शहनाज (8), आरिफ (6), चीकू (4) व बाबू (2) की हत्या कर दी थी.

हत्यारे पिता ने अपने दोस्त को बच्चों को दफनाने की दी थी जिम्मेदारी

आरोपी ने अपने दोस्त जाकिर को कॉल करके कहा था कि तुम मेरे घर अभी जाओ और मैंने अपने चारों बच्चों को मार दिया है, अब तुम मेरे घर जाकर अभी उन चारों बच्चों को दफनाने का कार्य कर देना और मैं बहुत दूर आ गया हूं. आरोपी के दोस्त जाकिर ने सरदारशहर थाने में मामला दर्ज कराया था. इस कॉल की डिटेल के आधार पर पुलिस ने आरोपी की तलाश कर उसे गिरफ्तार किया था.

यह भी पढ़ें: झालावाड़ में मारुति वैन में धू-धूकर लगी आग, आधे दर्जन लोग थे सवार

प्रदेश में पहली बार ऑनलाइन वोटिंग, 4 लाख यूथ कांग्रेसी चुनेंगे अपना नेता

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.

हमें FacebookTwitter, Instagram और Telegram पर फॉलो करें.

विज्ञापन
विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज