चूरू में फिजियोथेरेपी कराने आई युवती से छेड़छाड़, परिजनों ने फिजियोथेरेपिस्ट को पीटा

चूरू के राजकीय डेडराज भरतिया अस्पताल में शनिवार को उस वक्त हंगामा हो गया, जब फिजियोथेरेपी कराने आई 20 साल की युवती से फिजियोथेरेपिस्ट पर अश्लील हरकत करते हुए छेड़छाड़ करने का आरोप लगाया.

Manoj K. Sharma | News18 Rajasthan
Updated: July 14, 2019, 12:04 PM IST
चूरू में फिजियोथेरेपी कराने आई युवती से छेड़छाड़, परिजनों ने फिजियोथेरेपिस्ट को पीटा
फोटो : न्यूज 18 राजस्थान ।
Manoj K. Sharma | News18 Rajasthan
Updated: July 14, 2019, 12:04 PM IST
चूरू के राजकीय डेडराज भरतिया अस्पताल में शनिवार को उस वक्त हंगामा खड़ा हो गया जब फिजियोथेरेपी कराने आई 20 साल की युवती ने फिजियोथेरेपिस्ट पर अश्लील हरकत और छेड़छाड़ करने का आरोप लगा दिया. युवती की शिकायत के बाद गुस्साए परिजनों ने फिजियोथेरेपिस्ट की पिटाई कर डाली. बाद में अस्पताल प्रशासन और पुलिस की समझाइश से मामला शांत हुआ.

युवती के परिजनों ने फिजियोथेरेपिस्‍ट की कर डाली पिटाई


जानकारी के अनुसार, घटना राजकीय डेडराज भरतिया अस्पताल के रिहैबिलिटेशन सेंटर में हुई. वहां पंखा रोड निवासी एक युवती फिजियोथेरेपी कराने आई थी. युवती ने परिजनों को बताया कि फिजियोथेरेपिस्ट सुमित ने उसके साथ छेड़छाड़ की. इस पर परिजन वहां पहुंचे और फिजियोथेरेपिस्ट सुमित की पिटाई कर डाली. हंगामा की सूचना पर अस्पताल के कार्यवाहक अधीक्षक डा. एफएच गौरी वहां पहुंचे. उन्होंने दोनों पक्षों से समझाइश की. अस्पताल प्रशासन ने युवती की शिकायत पर मामले की जांच का आश्वासन दिया.

जांच अधिकारी नियुक्त

इस बीच हंगामे की सूचना पर कोतवाली पुलिस भी मौके पर पहुंच गई. बाद में फिजियोथैरेपिस्ट द्वारा माफी मांग लेने पर मामला शांत हो गया. अस्पताल प्रशासन ने मामले की जांच के लिए डा. गोविन्द बेसरवाल को जांच अधिकारी नियुक्त किया है. इसके साथ ही फिजियोथैरेपिस्ट को संवेदनशीलता से काम करने के लिए पाबंद किया गया है.

सरदारशहर पुलिस पर गैंगरेप का आरोप, एसपी एपीओ, सीओ सस्पेंड 

हेड कांस्टेबल की पीट-पीटकर हत्‍या, सात आरोपियों की हुई पहचान
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...