Home /News /rajasthan /

पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर CM अशोक गहलोत का बड़ा बयान, VAT कम करने से किया साफ इनकार

पेट्रोल-डीजल की कीमतों पर CM अशोक गहलोत का बड़ा बयान, VAT कम करने से किया साफ इनकार

Rajasthan Petrol Diesel Rate: राजस्थान सरकार ने पेट्रोल-डीजल वैट कम करने से इनकार कर दिया  है.

Rajasthan Petrol Diesel Rate: राजस्थान सरकार ने पेट्रोल-डीजल वैट कम करने से इनकार कर दिया है.

Rajasthan Petrol- Diesel Price: राजस्थान सरकार ने पेट्रोल-डीजल पर वैट कम करने से मना कर दिया है. मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) का कहना है कि एक्साइज ड्यूटी कम करने के साथ ही राज्यों का वैट भी अपने आप कम हो जाता है.  सीएम गहोलत ने केंद्र से एक्साइज ड्यूटी में और कटौती करने की मांग की है. 

अधिक पढ़ें ...

जयपुर. केंद्र सरकार ने दिवाली (Diwali) से पहले पेट्रोल-डीजल (petrol-diesel price) पर एक्साइज ड्यूटी कम करने का ऐलान किया. अब राजस्थान के मुख्यमंत्री अशोक गहलोत (Ashok Gehlot) ने इसमें और कटौती करने की मांग की है. सीएम गहलोत का कहना है कि एक्साइज ड्यूटी (excise duty) कम करने के साथ ही अपने आप वैट भी कम हो जाता है. इससे ज्यादा वैट कम करने से उन्होंने इनकार कर दिया है. सीएम गहलोत का कहना है कि केंद्र सरकार के एक्साइज ड्यूटी कम करने के साथ ही राज्यों का वैट भी अपने आप कम हो जाता है. हमारी मांग है कि केंद्र को और अधिक एक्साइज कम करनी चाहिए. गौरतलब हो कि केंद्र ने पेट्रोल पर 5 रुपए प्रति लीटर और डीजल पर 10 रुपए प्रति लीटर एक्साइज ड्यूटी कम की है.

मुख्यमंत्री अशोक गहलोत ने कहा कि प्रदेश के हर जिले में यह सुनिश्चित किया जाएगा कि पेट्रोल-डीजल की दरों में कमी का लाभ सीधा जनता को मिले. केंद्र एक्साइज ड्यूटी में और कमी कर महंगाई की मार झेल रही जनता को राहत दें.

गहलोत सरकार से वैट कम करने की मांग

विधानसभा उपनेता प्रतिपक्ष राजेन्द्र राठौड ने गहलोत सरकार से पेट्रोल और डीजल पर वैट कम करने की मांग की है. उन्होंने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से प्रदेश में बढ़ी वैट की दरों को पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के समकक्ष करने की मांग की है. राजस्थान सरकार के जन घोषणापत्र का हवाला देते हुए उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अपने घोषणा पत्र में वादा किया था कि वह पेट्रोल और डीजल को वैट के दायरे में लेकर आएंगे, लेकिन लगातार तीन बार दाम बढ़ाए गए हैं. उन्होंने कहा कि राज्य सरकार ने अब तक पेट्रोल पर 12 और डीजल पर 10 फीसदी वैट की बढ़ोतरी की है. जब देश के 10 राज्यों ने अपनी वैट की दरों को 7 से 18 फीसदी तक कम किया है तो राजस्थान की सरकार को भी अपने जन घोषणा पत्र में किए गए वायदे को अमलीजामा पहनाना चाहिए.

ये भी पढ़ें: REET Exam में 6 लाख का चप्पल डिवाइस बनाकर नकल करने वाला सरगना तुलसाराम कालेर गिरफ्तार

राजेन्द्र राठौड ने मुख्यमंत्री अशोक गहलोत से मांग करते हुए कहा कि पूर्ववर्ती भाजपा सरकार के समय में 18 फीसदी डीजल पर और 26 फीसदी पेट्रोल पर वैट की दरे थी. मुख्यमंत्री भी इसे वहां तक लेकर आएं और अब तक बढ़ी हुई दरों को वापस लें, ताकि उपभोक्ताओं को राहत मिल सके. राठौड ने गहलोत सरकार पर तंज कसते हुए कहा कि हमेशा पानी पी—पीकर पेट्रोल और डीजल के दामों की बढ़ोतरी पर केंद्र सरकार को कोसने वाले मुख्यमंत्री अशोक गहलोत अब अपनी कथनी और करनी के अंतर को समाप्त करें और राजस्थान में जो उन्होंने अपने कार्यकाल के दौरान वैट की दरों में बढ़ोतरी की उन्हें कम करें.

Tags: Jaipur news, Petrol diesel prices, Petrol New Rate, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर