20 साल की मेहनत से उम्मेद खां ने बनाया हजारों साल का कैलेंडर

Manoj K. Sharma | News18 Rajasthan
Updated: September 12, 2019, 3:01 PM IST
20 साल की मेहनत से उम्मेद खां ने बनाया हजारों साल का कैलेंडर
हजार साल के कैलेंडर के साथ है विभिन्न धर्मों से जुड़ीं तस्वीरें भी

राजस्थान के सुजानगढ़ में रहने वाले उम्मेद खां ने 20 साल की मेहनत से हजारों साल का कैलेंडर बनाया है और सभी धर्म और समुदाय के आराध्य की तस्वीर लगाई गई है.

  • Share this:
सुजानगढ़ के उम्मेद खां ने 20 साल की मेहनत से हजारों साल का कैलेंडर बनाने में सफलता हासिल की है. उम्मेद खां ने बताया कि 1985 में वे लाल किला देखने के लिए दिल्ली गए थे, वहीं तांबे की गोलाकार आकृति में बना 28 साल का कैलेंडर देखा था. उसको देखकर उनके मन में विचार आया कि जब 28 साल का कैलेंडर हो सकता है तो हजारों साल का क्यों नहीं. तभी से उम्मेद खां पर धुन सवार हुई और तांबे के कैंलेडर को समझने में उन्होंने देर नहीं की.

विदेश में रहते शुरू किया था कैलेंडर बनाने का काम
1990 में उम्मेद खां ने कैलेंडर बनाने का काम विदेश में रहते हुए शुरू किया. जब उनके मित्र शुक्रवार की छूट्टी मनाते थे तब उम्मेद खां कॉपी पेंसिल लेकर कैलेंडर बनाने बैठ जाते थे. सात साल की मेहनत के बाद 1997 में एक गोलाकार कैलेंडर बनकर तैयार हुआ. कैलेंडर में फार्मूला तो फिट बैठ गया, लेकिन वह कैलेंडर उन्हें सुंदर नहीं लगा. उसके बाद फिर से उन्होंने काम शुरू किया और आयताकार कैलेंडर बनाने का मिशन लिया, ताकि बीचोंबीच कोई तस्वीर लगाकर कैलेंडर आकर्षक बनाया जा सके और 2009 तक आते-आते उन्होंने इसमें सफलता पा ली.

उम्मेद खां चाहते हैं कि लोग उनके कैलेंडर का उपयोग करें


सभी धर्मों का सम्मान करने की सीख देते हुए उम्मेद खां ने इस कैलेंडर में लक्ष्मी देवी, मक्का मदीना, बालाजी, छोटा बच्चा, गुरु नानकदेव के चित्र लगाए, ताकि यह कैलेंडर हर धर्म और समुदाय के लोगों के काम आ सके. भारत सरकार के कंट्रोलर जनरल ऑफ पेटेंट, डिजाइन, ट्रेड मार्क से इस कैलेंडर को पेटेंट भी करा लिया. उम्मेद खां की अब यह हसरत है कि लोग इस कैलेंडर को समझें और उपयोग में लाएं. 60 वर्षीय उम्मेद खां को ये डर भी है कि जीवन का कोई भरोसा नहीं, कहीं ये कला कहीं उनके साथ ही न समाप्त हो जाए.

ये भी पढ़ें- राजस्थान में घट रहे मरुस्थल और रेत के टीलों की वैज्ञानिकों ने बताई ये वजह

BSF ने पाक घुसपैठिया किया बाड़मेर पुलिस के हवाले, पढ़ें- अब तक क्या हुआ?

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए चूरू से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 12, 2019, 3:01 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...