होम /न्यूज /राजस्थान /रेपिस्ट को उम्रकैद की सजा: 16 साल की नाबालिग से रेप कर उसे बना दिया था बिन ब्याही मां

रेपिस्ट को उम्रकैद की सजा: 16 साल की नाबालिग से रेप कर उसे बना दिया था बिन ब्याही मां

चूरू के रतनगढ़ थाने में अक्टूबर 2017 में रेपिस्ट हरलाल जाट के खिलाफ मामला दर्ज हुआ था.

चूरू के रतनगढ़ थाने में अक्टूबर 2017 में रेपिस्ट हरलाल जाट के खिलाफ मामला दर्ज हुआ था.

Rapist sentenced to life imprisonment in Churu: राजस्थान की चूरू पोक्साे कोर्ट ने करीब पांच साल पुराने रेप (Rape) के एक ...अधिक पढ़ें

हाइलाइट्स

चूरू के रतनगढ़ थाना इलाके में पांच साल पहले हुई थी वारदात
पीड़िता के पेट में दर्द होने पर पता चला था कि वह गर्भवती हो गई

चूरू. राजस्थान की चूरू पोक्सो कोर्ट ने करीब पांच साल पुराने रेप (Rape) के एक मामले में मंगलवार को अपना फैसला सुनाया. कोर्ट ने 16 साल की नाबालिग लड़की से रेप करने वाले 50 साल के रेपिस्ट को उम्रकैद की सजा (Life sentence) से दंडित किया है. रेप की इस वारदात के बाद पीड़िता प्रेग्नेंट हो गई थी. उसके बाद उसने एक बच्ची को जन्म दिया था. कोर्ट ने 13 गवाहों के बयान और उपलब्ध साक्ष्यों के आधार पर अपना फैसला सुनाया. दिल को दहला देने वाला यह मामला चूरू जिले के रतनगढ़ थाना इलाके से जुड़ा है.

पोक्सो कोर्ट के विशिष्ट लोक अभियोजक वरुण सैनी ने बताया कि रेप की यह वारदात वर्ष 2017 में रतनगढ़ थाना इलाके के एक गांव में हुई थी. वारदात के दिन पीड़िता वहां अपनी ढाणी में अकेली थी. उसी दौरान उसका खेत पड़ोसी हरलाल जाट वहां आया. उसने नाबालिग को अकेला पाकर उससे रेप किया. आरोपी ने उसे जान से मारने की धमकी भी दी. इससे पीड़िता डर गई और उसने किसी को कुछ नहीं बताया.

पीड़िता के पेट दर्द होने पर पता चला कि वह गर्भवती है
विशिष्ट लोक अभियोजक के अनुसार उसके बाद पीड़िता के पिता ने इस संबंध में अक्टूबर 2017 में रतनगढ़ थाने में आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करवाया था. पीड़िता के पिता ने अपनी रिपोर्ट में बताया कि उसकी 16 वर्षीय बेटी के पेट में दर्द होने पर उसे गांव से रतनगढ़ अस्पताल ले जाया गया था. वहां चिकित्सकों ने उसकी नाबालिग बेटी को गर्भवती बताया और चूरू रेफर कर दिया. यह सुनकर परिजनों के पैरों तले से जमीन खिसक गई.

26 सितंबर 2017 को पीड़िता ने बच्ची को जन्म दिया था
उसके बाद नाबालिग ने अपनी मां को बताया एक दिन जब वह अपनी ढाणी में अकेली थी तो उनका खेत पड़ोसी हरलाल जाट वहां आया था. हरलाल ने उसके साथ रेप किया था. उसने मां को यह भी बताया कि आरोपी हरलाल ने यह बात किसी को बताने पर जाने से मारने की धमकी भी दी थी. इसलिये वह डर गई और चुप रही. उसके बाद 26 सितंबर 2017 को पीड़िता ने जिला अस्पताल में एक बच्ची को जन्म दिया था.

कोर्ट में 13 गवाहों के बयान कराए गये
इस पर पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज उसे गिरफ्तार कर लिया. पुलिस ने बाद में पूरे केस की जांच कर आरोपी के खिलाफ कोर्ट में चालान पेश किया. पोक्सो कोर्ट में सुनवाई के दौरान 13 गवाहों के बयान कराए गये. कोर्ट ने गवाहों के बयान और उपलब्ध साक्ष्यों के आधार हरलाल को रेप का दोषी करार दिया. कोर्ट ने अभियुक्त हरलाल को उम्र कैद की सजा सुनाई है.

Tags: Churu news, Crime News, Rajasthan news, Rape Case

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें