Home /News /rajasthan /

अब राजस्थान में SSC MTS की परीक्षा में नकल, कोचिंग संचालक गिरफ्तार, 4 लाख में हुआ था सौदा

अब राजस्थान में SSC MTS की परीक्षा में नकल, कोचिंग संचालक गिरफ्तार, 4 लाख में हुआ था सौदा

तारानगर स्थित केडी कोचिंग सेंटर के मालिक धर्मवीर सैनी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

तारानगर स्थित केडी कोचिंग सेंटर के मालिक धर्मवीर सैनी को पुलिस ने गिरफ्तार किया है.

राजस्थान में रीट परीक्षा (REET Exam) में हुई धांधली को लेकर मचे बवाल के बीच अब एसएससी (एमटीएस) की ऑनलाइन परीक्षा में नकल का बड़ा मामला सामने आया है. चूरू जिले की तारानगर तहसील से कोचिंग सेंटर संचालक धर्मचंद उर्फ धर्मवीर सैनी को गिरफ्तार किया गया है. उसने 4 लाख में परीक्षार्थी को पेपर हल करवाने का सौदा तय किया था.

अधिक पढ़ें ...

चूरू. राजस्थान में रीट परीक्षा (REET Exam) में हुई धांधली को लेकर मचा बवाल अभी थमा ही नहीं था कि अब एसएससी (एमटीएस) की ऑनलाइन परीक्षा में नकल का बड़ा मामला सामने आया है. नकल और परीक्षा में धांधली के इस पूरे खेल में चूरू जिले की तारानगर तहसील में संचालित एक कोचिंग सेंटर की भूमिका सामने आई है. कोचिंग सेंटर संचालक धर्मचंद उर्फ धर्मवीर सैनी ने 4 लाख में परीक्षार्थी को पेपर हल करवाने का सौदा तय किया था. बीकानेर की नापासर पुलिस ने कारवाई करते हुए कोचिंग संचालक को गिरफ्तार किया है.

दरअसल 6 अक्टूबर को कर्मचारी चयन आयोग नई दिल्ली द्वारा आयोजित मल्टी टास्किंग (गैर तकनीकी) स्टाफ परीक्षा 2020 (पत्र फर्स्ट) का मंडा इंस्टीट्यूट ऑफ़ टेक्नोलॉजी एनएच -11 रायसर, पुलिस थाना नापासर में ऑनलाइन परीक्षा की प्रथम पारी में परीक्षार्थी रोहिताश कड़वासरा को मोबाइल से नकल करते हुए पकड़ा गया था. पुलिस ने आरोपी के खिलाफ मामला दर्ज करके उसे गिरफ्तार किया था. परीक्षार्थी ने पूछताछ के दौरान बताया कि नकल संबंधी संपूर्ण व्यवस्था का इंतजाम चूरू जिले की तारानगर तहसील में संचालित केडी कोचिंग सेंटर के मालिक धर्मवीर सैनी द्वारा की गई थी. धर्मवीर ने 4 लाख रुपयो में सौदा तय किया था. कोचिंग सेंटर के संचालक धर्मवीर सैनी और उसके भाई ने नकल गिरोह के तीन सदस्यों को बीकानेर भेजा था तथा परीक्षार्थी को मोबाइल फोन उपलब्ध करवाया था.

परीक्षा के पेपर की फोटो खींचने की प्रक्रिया भी समझाई लेकिन पर्यवेक्षक ने परीक्षार्थी को मोबाइल से पेपर की फोटो खींचते समय पकड़ा लिया था. परीक्षार्थी को ये फोटो कोचिंग संचालक को मोबाइल फोन पर भेजने थे. फिर नकल गिरोह को पेपर हल करके उत्तर सहित वापस परीक्षार्थी को भेजना था लेकिन परीक्षार्थी पकड़ा गया. पूछताछ में कोचिंग संचालक सहित गिरोह के बारे में जानकारी प्राप्त हुई.

पुलिस ने उसी दिन तारानगर स्थित केडी कोचिंग सेंटर के मालिक धर्मवीर सैनी के ठिकानों पर रेड की लेकिन वह फरार हो गया. अब जाकर पुलिस ने धर्मवीर सैनी को गिरफ्तार किया गया है. नकल गिरोह के अन्य सदस्यों के बारे में पता किया जा रहा है. कोचिंग संचालक से पूछताछ के बाद गिरोह के अन्य सदस्यों का खुलासा होने की संभावना है.

Tags: Churu news, Rajasthan news, REET exam

विज्ञापन

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर