होम /न्यूज /राजस्थान /चुरू शहर को कचरे से जल्द मिलेगी निजात, कूड़ा बेचकर नगर परिषद यूं होगा मालामाल

चुरू शहर को कचरे से जल्द मिलेगी निजात, कूड़ा बेचकर नगर परिषद यूं होगा मालामाल

वैज्ञानिक तरीके से होगा कचरे का निस्तारण

वैज्ञानिक तरीके से होगा कचरे का निस्तारण

चुरू नगर परिषद ने लगभग 33 लाख रुपये की लागत से खरीदी गई ट्रोमल मशीन को यहां स्थापित की है. इसके द्वारा वैज्ञानिक तरीके ...अधिक पढ़ें

नरेश पारीक

चुरू. राजस्थान के चुरू में कूड़े-कचरे के ढेर को ठिकाने लगाने की तैयारी है. साथ ही शहर भर में निकलने वाला कचरा नगर परिषद का राजस्व भी बढ़ाएगा. अभी तक जिस कचरे के ढेर की वजह से डंपिंग स्टेशन छोटे पड़ने लग गए थे, वो अब जल्द खाली हो जाएंगे. नगर परिषद ने लगभग 33 लाख रुपये की लागत से खरीदी गई ट्रोमल मशीन को यहां स्थापित की है. सभापति पायल सैनी ने कहा है कि चूरू शहर जल्दी कचरा मुक्त हो जाएगा. चूरू नगरपरिषद जिले की यह पहली नगरपरिषद है जिसमें इस मशीन के द्वारा वैज्ञानिक तरीके से कचरे का निस्तारण होगा. इस मशीन के आने से प्रतिदिन 200 से 250 टन कचरे का पृथकीकरण मशीन से किया जाएगा.

बनाई जाएगी खाद
इस मशीन से जमा किये कचरे से खाद बनाई जाएगी जिसकी बिक्री से नगरपरिषद के राजस्व में इजाफा होगा. इसी प्रकार कचरे से अलग कर निकाले गये प्लास्टिक को सीमेंट फैक्ट्रियों में भेजा जाएगा. जबकि लोहे की बिक्री की जायेगी. फिलहाल यह कार्य हनुमानगढ़ी में प्रारंभ किया गया है क्योंकि नगरपरिषद द्वारा शहर से एकत्रित किये जाने वाला कचरा ओटो टिप्पर और ट्रैक्टरों के माध्यम से हनुमानगढ़ी में डंप किया जा रहा है.

यहां पड़ा है सात हजार टन कचरा
वर्तमान में हनुमानगढ़ी क्षेत्र में 7,000 टन कचरा पड़ा है, जिसके निस्तारण में लगभग छह माह का समय लगेगा. वहां से कचरे को अलग-अलग कर यहीं इसका निस्तारण कर दिया जाएगा. यह स्थान खाली होने के बाद निकट भविष्य में इस ट्रोमल मशीन को राजगढ़ रोड पर स्थित एमआरएफ सेंटर में स्थापित किया जाएगा.

इलाके के लोग जताते थे विरोध
हनुमानगढ़ी क्षेत्र में नगर परिषद के ऑटो टिप्पर के द्वारा कचरा डालने का आस-पास रहने वाले लोग लंबे समय से विरोध कर रहे हैं. नगर परिषद के ऑटो टिप्परों के द्वारा यहां शहर से एकत्रित कचरा डाला जा रहा है, इस तरह यहां लगभग सात हजार टन कचरा एकत्रित हो गया है. नाराज लोग पूर्व में नगर परिषद के ऑटो टिप्परों को कई बार यहां कचरा डंप करने से रोक चुके हैं.

Tags: Churu news, Garbage, Rajasthan news in hindi

विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें