ये है सुजानगढ़, जहां राशन मिलता है दोपहर तक तो शराब बिकती है देर रात तक!

सुजानगढ़ में कई जगह नियम व्यवस्था तोड़कर शराब बिक्री हो रही है.

सुजानगढ़ में कई जगह नियम व्यवस्था तोड़कर शराब बिक्री हो रही है.

अनधिकृत तरीके से​ बिक रही शराब को लेकर आबकारी विभाग जवाब देने में कतरा रहा है, तो दूसरी ओर शहरवासी नाराज हैं. किसान नेता ने तो यहां तक कह दिया है कि समस्या सुलझी नहीं तो किसान मोर्चा संभालेंगे.

  • Share this:

सुजानगढ़. राजस्‍थान के सुजानगढ़ शहर में इन दिनों राशन और शराब की दुकानें खोलने का समय सुबह 11 बजे तक है, लेकिन शराब की दुकानों पर दिन के साथ देर रात तक शराब की बिक्री होती रहती है. खास बात तो ये है कि आबकारी विभाग निरीक्षक का दफ्तर शहर के घंटाघर चौक पर है, उसके बावजूद शराब ठेके बंद होने के बाद, ठेके के बाहर सेल्समैनों का जमावड़ा और ठेकों के साइड में खुली खिड़कियों से शराब बदस्तूर बिकती है.

कोरोना के चलते आंशिक लॉकडाउन संबंधी जो गाइडलाइन जारी की गई है, उसके अनुसार शराब की दुकानें सुबह 11 बजे के बाद संचालन नहीं कर सकतीं, लेकिन अवैध रूप से हो रही शराब बिक्री के बारे में एक तरफ समाज के प्रतिष्ठित लोग आरोप लगा रहे हैं, तो दूसरी तरफ आबकारी विभाग के पास इस बात का जवाब नहीं है कि चोरी छुपे साइड की खिड़कियों से शराब की बिक्री को रोका क्यों नहीं जा रहा.

ये भी पढ़ें : एम्बेसी अफसर कोठी में चला रहा था अवैध कैसिनो, पुलिस पहुंची तो...

कैसे चलता है अवैध धंधा?
कई जगह शराब ठेके के शटर को काटकर छोटी सी खिड़की निकाली गई है, तो कई जगहों पर शराब ठेके के मुख्य दरवाज़े के पास होल किए गए हैं जिनमें से शराब की बोतल ग्राहक को मिल जाती है और कीमत दुकानदार को. अनेक शराब ठेकों के पास एक पतली गली बनी है, जहां खिड़की के ज़रिये शराब बिक्री होती है, लेकिन आबकारी विभाग को यह पूरा धंधा या तो दिखता नहीं, या विभाग इसे नज़रअंदाज़ करता है!

rajasthan news, rajasthan samachar, rajasthan lockdown, rajasthan lockdown guideline, राजस्थान न्यूज़, राजस्थान समाचार, राजस्थान लॉकडाउन, राजस्थान लॉकडाउन गाइडलाइन
एक दुकान में बनी गुप्त जगह से चोरी छुपे होती शराब बिक्री.

क्या किसान करेंगे आंदोलन?



लोगों में इस बात को लेकर गुस्सा है कि इस तरह देर रात तक शराब की बिक्री रोकी क्यों नहीं जा रही. किसान नेता रामनारायण रूलाणिया, एडवोकेट बनवारीलाल बिजारणिया, जगदेव बेड़ा आदि ने आरोप लगाया कि आबकारी विभाग के अधिकारियों की सांठ-गांठ के बगैर ये हो नहीं सकता. कामरेड रूलाणिया ने बताया कि जल्द ही यह अवैध धंधा बंद नहीं किया गया, तो किसानों को जनहित के लिए आगे आना पड़ेगा.

क्या कहता है आबकारी विभाग?

सुजानगढ़ आबकारी निरीक्षक कीर्ति सोनी ने कहा 'दोपहर सवा ग्यारह बजे से पहले शराब ठेकेदारों को दुकानें बंद करने के निर्देश दिए गए हैं. समय-समय पर गश्त की जाती है और 11 बजे के बाद शराब बिक्री होने पर दुकानें बंद करवाई गईं.' लेकिन सोनी ने दुकानों के साइड से हो रही शराब बिक्री के सवाल का कोई जवाब नहीं दिया.

अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज