Home /News /rajasthan /

इस गांव में नहीं बनाते दो मंजिला मकान, 700 सालों से है लोगों में खौफ, पढ़ें पूरी कहानी

इस गांव में नहीं बनाते दो मंजिला मकान, 700 सालों से है लोगों में खौफ, पढ़ें पूरी कहानी

Churu News: राजस्थान के उडसर गांव में लोगों ने 700 सालों से नहीं बनाया दो मंजिला मकान.

Churu News: राजस्थान के उडसर गांव में लोगों ने 700 सालों से नहीं बनाया दो मंजिला मकान.

Unique Udsar Village Churu : राजस्थान (Rajasthan) के चूरू (Churu) जिले की सरदारशहर तहसील के उडसर गांव (udsar village) में पिछले 700 साल से किसी ने बहुमंजिला तो दूर दो मंजिला मकान भी नहीं बनवाया है. ग्रामीणों का मानना है कि गांव में कोई भी व्यक्ति अगर घर की दूसरी मंजिल बनाएगा तो उसके परिवार पर विपदा आ जाएगी. माना जाता है कि भोमिया नाम के व्यक्ति की मौत के बाद उनकी पत्नी ने पूरे गांव को श्राप दिया था. हालांकि, इस मान्यता और इससे जुड़ी कहानी का कोई ऐतिहासिक सबूत नहीं है.

अधिक पढ़ें ...

चूरू. भारत गांवों का देश है. यहां हर गांव की अपनी एक अलग कहानी है. आपको जानकारी हैरानी होगी कि राजस्थान (Rajasthan) में एक ऐसा गांव है जहां आज भी लोग घर की दूसरी मंजिल बनाने से डरते हैं. माना जाता है कि चूरू (Churu) जिले के सरदारशहर तहसील के उडसर गांव (udsar village) में पिछले 700 साल से किसी ने बहुमंजिला तो दूर दो मंजिला मकान भी नहीं बनवाया है. ग्रामीणों का मानना है कि पूरा गांव में कोई श्राप है, जो घर की दूसरी मंजिल बनाएगा उसके परिवार पर विपदा आ जाएगी.

स्थानीय लोगों का कहना है कि यह गांव पिछले 700 सालों से श्राप झेल रहा है, इसी वजह से गांव में आजतक किसी ने दो मंजिल इमारत बनाने की हिम्मत की. बताया जाता है कि 700 साल पहले इस गांव भोमिया नाम का एक व्यक्ति रहता था. भोमिया की पत्नी सती हो गई थी और पूरे गांव को उसने श्राप दिया था.

….तो इस वजह से नहीं बनाते दो मंजिला मकान

स्थानीय लोगों का मानना है कि उदसर गांव में करीब 700 साल पहले भोमिया नाम का एक व्यक्ति रहता था. एक दिन उसे गांव में चोरों के आने की खबर मिली. लुटेरे आ गये और मवेशियों को चुरा कर ले जाने लगे. इस पर भोमिया लुटेरों से अकेला भिड़ गया, लेकिन चोरों ने उसे लहूलुहान कर दिया. उसके बाद भोमिया दौड़ते-दौड़ते अपने ससुराल पहुंच गया और वहां दूसरी मंजिल पर जाकर छिप गया. लेकिन, भोमिया के पीछे-पीछे चोर भी वहां पहुंच गए.

लुटेरों ने भोमिया के ससुराल वालों के साथ भी मारपीट की. इसे देख भोमिया फिर चोरों से भिड़ गया. लेकिन उन्होंने भोमिया का गला काट दिया. भोमिया फिर भी लड़ते रहे और अपने गांव की सीमा के पास आ गए. आखिर में भोमिया का धड़ उडसर गांव में गिरा. यहां लोगों ने भोमिया जी का मंदिर बनाया है. ग्रामीणों का कहना है कि भोमिया की मौत के बाद उनकी पत्नी ने गांव वालों को श्राप दिया कि अगर कोई भी गांव में अपने घर की दूसरी मंजिल पर मकान या कमरा बनाया तो उस पर विपदा आ जाएगी. मान्यता है कि उस दिन के बाद से उदसर गांव में किसी भी व्यक्ति ने अपने मकान की दूसरी मंजिल नहीं बनाई. यहां तक की नए बनाए जाने वाले मकान में भी दूसरी मंजिल नहीं होती. हालांकि इस घटना का कोई ऐतिहासिक सबूत नहीं है.

Tags: Churu news, Rajasthan news

विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर