कांग्रेस के मुरली मनोहर निर्विरोध चुने गए दौसा नगर परिषद के सभापति

दौसा नगर परिषद के सभापति के उप चुनाव में भाजपा अपने ही बनाए चक्रव्यूह में फंसकर रह गई. सभापति का पद कांग्रेस के पार्षद मुरलीमनोहर शर्मा निर्विरोध चुने गए.

Laxmikant sharma | ETV Rajasthan
Updated: March 14, 2018, 5:52 PM IST
कांग्रेस के मुरली मनोहर निर्विरोध चुने गए दौसा नगर परिषद के सभापति
मुरलीमनोहर शर्मा, नव निर्वाचित सभापति दौसा फोटो- ईटीवी
Laxmikant sharma | ETV Rajasthan
Updated: March 14, 2018, 5:52 PM IST
दौसा नगर परिषद के सभापति के उप चुनाव में कांग्रेस पार्षद मुरलीमनोहर शर्मा को निर्विरोध सभापति निर्वाचित घोषित किया गया. बुधवार को संपन्न हुए चुनाव में भाजपा अपने ही बनाए चक्रव्यूह में उलझ कर रह गई और समझौते के तहत कांग्रेस के पार्षद को निर्विरोध सभापति बनाने के लिए समर्पण करना पड़ गया. मुरली मनोहर के अलावा कोई भी नामांकन भरने नहीं पहुंचा. इस चुनाव के लिए भाजपा व कांग्रेस के पार्षदों ने एक पार्षद एकता मंच बनाया जिसमें तीस पार्षद शामिल थे. शर्त ये रखी गई कि मुरली मनोहर निर्दलीय के रूप में नामांकन भरेंगे.

मुरली मनोहर के प्रस्तावकों में भाजपा के पार्षद भी शामिल रहे. दौसा में इतिहास ये रचा गया कि भाजपा के सहयोग से कांग्रेस अपना सभापति बनाने में कामयाब हो गई. भाजपा की आंतरिक कलह के चलते भाजपा के सभापति राजकुमार के खिलाफ अविश्वास प्रस्ताव आने से भाजपा सभापति की कुर्सी से बेदखल हो गई थी.

कांग्रेस का सभापति बनने पर कांग्रेस के पूर्व मंत्री मुरारीलाल मीना सहित सभी कांग्रेसी नेता नगर परिषद पहुंचे व सभापति को कुर्सी पर बिठा कर एक दूसरे को जीत की बधाई दी. पूर्व मंत्री मुरारीलाल ने इस मौके पर कहा कि अब समय बदल रहा है. कांग्रेस सभापति ही नहीं आने वाले चुनाव में भी शानदार जीत हासिल करेंगी.
पूरी ख़बर पढ़ें
अगली ख़बर