Assembly Banner 2021

दौसा में ऑनर किलिंग: हाई कोर्ट ने लिव-इन में रहने वाली महिला की सुरक्षा का दिया था आदेश, फिर भी कर दी गई हत्‍या

पिंकी सैनी 21 फरवरी को अपने प्रेमी रोशन के साथ घर से फरार हो गई थी और उसने राजस्थान उच्च न्यायालय की शरण ली थी.

पिंकी सैनी 21 फरवरी को अपने प्रेमी रोशन के साथ घर से फरार हो गई थी और उसने राजस्थान उच्च न्यायालय की शरण ली थी.

Honor Killing: दौसा में प्रेमी के साथ लिव-इन-रिलेशनशिप (Live-in relationship) में रह रही बेटी से खफा पिता ने उसे मौत के घाट (Murder) उतार डाला. इस वारदात से शहर में सनसनी फैल गई है.

  • Share this:
दौसा. जिले में ऑनर किलिंग (Honor Killing) का बड़ा मामला सामने आया है. यहां प्रेमी के साथ लिव इन रिलेशन (Live-in relationship) में रह रही एक लड़की को उनके ही पिता ने मौत के घाट (Murder) उतार दिया. बाद में पुलिस थाने जाकर खुद को सरेंडर कर दिया. ताजुब्ब की बात यह है कि लड़की ने इस मामले को लेकर हाई कोर्ट की शरण ली थी. हाई कोर्ट ने भी पुलिस-प्रशासन को निर्देश दिये थे कि उसे सुरक्षा उपलब्ध करवायी जाये, लेकिन ऐसा हुआ नहीं और लड़की को प्यार करने की सजा अपनी मौत से चुकानी पड़ी.

जानकारी के अनुसार, हत्या की शिकार हुई पिंकी सैनी दौसा शहर के रामकुंड इलाके की रहने वाली थी. वह रोशन महावर नामक दलित लड़के से प्रेम करती थी. गत 16 फरवरी को परिजनों ने पिंकी की शादी जबरन लालसोट क्षेत्र के एक गांव में करा दी थी. शादी के बाद पिंकी सैनी 21 फरवरी को अपने प्रेमी रोशन के साथ घर से फरार हो गई और राजस्थान उच्च न्यायालय की शरण ले ली. वहां पिंकी ने रोशन के साथ लिव इन रिलेशनशिप में रहने की इच्छा जताई. इसके साथ ही परिजनों पर जबरन शादी का आरोप लगाया.

परिजनों पर जबरन साथ ले जाने का आरोप
इसके बाद राजस्थान उच्च न्यायालय ने दौसा और जयपुर की अशोक नगर थाना पुलिस को पिंकी सैनी तथा उनके प्रेमी रोशन महावर को सुरक्षा उपलब्ध कराने के निर्देश दिये थे. 1 मार्च को पिंकी सैनी अपने प्रेमी के घर दौसा शहर के झालरा का बास में आई थी. इसी दौरान पिंकी सैनी के परिजन रोशन के घर पहुंचे. उन्होंने वहां तोड़फोड़ कर पिंकी सैनी को अपने साथ ले गए थे.
मयके में घर मिला पिंकी का शव


घटना की जानकारी मिलने के बाद पुलिस ने पिंकी सैनी की तलाश की लेकिन ढूंढ नहीं पाई. इसी बीच बुधवार रात पुलिस को सूचना मिली कि पिंकी सैनी की हत्या कर दी गई है. उसके बाद पुलिस पिंकी सैनी के पिता के घर रामकुंड में पहुंची और वहां से उसका शव बरामद किया. वारदात की गंभीरता को देखते हुये पुलिस अधीक्षक भी मौके पर पहुंचे. एसपी की मौजूदगी में एफएसल और एमओबी की टीम मौके से साक्ष्य एकत्र करने में जुटी है. इस वारदात से दौसा पुलिस की कार्यप्रणाली पर सवाल खड़े हो रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज