टूटी पटरी देखते ही हाथ में लाल कपड़ा लेकर आधे घंटे तक दौड़ता रहा ग्रामीण, बचाई सैकड़ों लोगों की जान

दौसा में सोमवार को सैकड़ों यात्रियों (Hundreds of travelers) की जिंदगी बचाने (Save lives) के लिए एक ग्रामीण फरिश्ता (angel) बनकर करीब आधा किलोमीटर तक लाल कपड़ा लेकर रेल की पटरियों पर दौड़ता रहा.

Ashish Sharma, Dausa | News18 Rajasthan
Updated: September 2, 2019, 2:51 PM IST
टूटी पटरी देखते ही हाथ में लाल कपड़ा लेकर आधे घंटे तक दौड़ता रहा ग्रामीण, बचाई सैकड़ों लोगों की जान
दौसा जिले के कोलाना अंडरपास के समीप रेलवे ट्रैक में फ्रैक्चर आ गया था. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान
Ashish Sharma, Dausa
Ashish Sharma, Dausa | News18 Rajasthan
Updated: September 2, 2019, 2:51 PM IST
दौसा में सोमवार को सैकड़ों यात्रियों की जिंदगी बचाने (Save lives) के लिए एक ग्रामीण फरिश्ता (angel) बनकर करीब आधा किलोमीटर तक लाल कपड़ा लेकर रेल पटरियों (Railway track) पर दौड़ता रहा. लाल कपड़ा के साथ ग्रामीण को दौड़ता देखकर ट्रेन चालक ने अनहोनी की आशंका से तत्काल इमरजेंसी ब्रेक (Emergency brake) लगा दिए. दरअसल, पटरी टूटी होने के कारण वह लाल कपड़ा लेकर पटरियों पर दौड़ रहा था, ताकि हादसा न हो.

पटरी में फ्रैक्चर को देखकर लाल कपड़ा लेकर दौड़ा कजोड़मल
सोमवार सुबह दौसा जिले के कोलाना अंडरपास के समीप पटरी टूट गई थी. ग्रामीण कजोड़मल शर्मा वहां से गुजर रहे थे, जब उनकी नजर टूटी पटरी पर पड़ी. उस समय इंटरसिटी एक्सप्रेस के आने का समय हो रहा था. इस पर कजोड़मल ने बिना देरी के समझदारी का परिचय दिया और तत्काल घर जाकर लाल कपड़ा ले आए. उसके बाद वह हाथ में लाल कपड़ा लेकर रेलवे ट्रैक पर ट्रेन के आने की दिशा में दौड़ना शुरू कर दिया. कजोड़मल ने करीब आधा किलोमीटर दौड़ लगाकर ट्रेन के चालक को लाल कपड़ा दिखाया.

दौसा में ग्रामीण ने बचाई सैंकड़ों यात्रियों की जिंदगी
दौसा में टूटी पटरी को देखने के बाद ग्रामीण कजोड़मल लाल कपड़ा लेकर ट्रेन को रुकवाने के लिए दौड़ पड़े थे. फोटो : न्यूज 18 राजस्थान


22 मिनट तक ट्रेन रुकी रही
ट्रेन के चालक ने भी किसी अनहोनी की आशंका को देखते हुए तत्काल इमरजेंसी ब्रेक लगा दिया. बाद में कजोड़मल ने ट्रेन के चालक को पटरी के टूटने की जानकारी दी. इसके बाद रेलवे प्रशासन से संपर्क साधा गया. सूचना पर रेलवे कर्मचारी मौके पर पहुंचे और ट्रैक की मरम्मत की. उसके बाद जयपुर से अलवर की ओर जा रही इंटरसिटी एक्सप्रेस को धीमी स्पीड से वहां से निकाला गया. हालांकि, इस सबके बीच ट्रेन करीब 22 मिनट तक रुकी रही. रेल प्रशासन ने ग्रामीण कजोड़मल की तारीफ और सराहना की.

अलवर में कबाड़ी ने बचाए बदमाशों से HDFC बैंक के 32 लाख रुपए
Loading...

मॉब लिन्चिंग:भीड़ ने प्लास से उखाड़े युवक के नाखून, की पिटाई

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए दौसा से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: September 2, 2019, 11:28 AM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...