महिलाओं ने बीएलओ को सुनाई खरी खोटी, कहा- नहीं लेंगे मतदाता पर्ची, नहीं देंगे वोट

दौसा में बूथ लेवल अधिकारी को महिलाओं ने जमकर खरी-खोटी सुनाई और मतदाता पर्ची लेने से इंकार कर दिया.

  • Share this:
मतदान करने से देश का लोकतंत्र मजबूत होता है और सशक्त सरकार बनती है, लेकिन दौसा में कुछ अलग ही दृश्य देखने को मिला, जब एक बूथ लेवल अधिकारी राजा कॉलोनी में मतदाता पर्ची वितरित करने के लिए गया तो, वहां महिलाओं का गुस्सा फूट पड़ा. महिलाओं ने बीएलओ को जमकर खरी-खोटी सुनाई और मतदाता पर्ची लेने से इंकार कर दिया.

महिलाओं का कहना था कि हम हर बार वोट करते हैं, लेकिन उनकी समस्याओं का समाधान नहीं होता है. उनका कहना है कि राजा कॉलोनी में पेयजल की आपूर्ति समय पर नहीं होती. यहां तक कि 5 से 7 दिनों में पानी की आपूर्ति की जाती है, वह भी कुछ मिनट के लिए, ऐसे में महिलाएं पानी की समस्या से परेशान हैं.

महिलाओं ने कहा कि जब समस्याओं का समाधान नहीं होता है, तो मतदान करने का क्या महत्व है. ऐसे में दौसा की रहने वाली एक महिला ने अपने घर के सभी 8 सदस्यों को मतदाता पर्ची नहीं लेने दी और बीएलओ को बैरंग लौटा दिया. हालांकि बीएलओ बार-बार मतदाता पर्ची देने की कोशिश करता रहा, लेकिन महिलाएं अड़ी रही और मतदाता पर्ची लेने से इंकार कर दिया. महिलाओं ने चेतावनी दी कि वे ना तो मतदाता पर्ची लेंगी और ना ही लोकसभा चुनाव में किसी भी प्रत्याशी को वोट करेंगी.



यह भी पढ़ें-दौसा में चुनावी दंगल, अंजू धानका की मीणा प्रत्याशियों को चुनौती
यह भी देखें- VIDEO: दौसा में मतदाता जागरूकता के लिए हुआ कवि सम्मेलन

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडे
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज