Dholpur: डकैत ने कांस्टेबल को मारी गोली, हालत गंभीर, पुलिस ने जंगल को घेरा

गोली कांस्टेबल अवधेश को लगी है. उसे तत्काल गंभीर हालत में आगरा ले जाया गया है.
गोली कांस्टेबल अवधेश को लगी है. उसे तत्काल गंभीर हालत में आगरा ले जाया गया है.

धौलपुर (Dholpur) में आज तड़के डकैतों की तलाश में गई पुलिस पर एक डकैत ने फायरिंग (Firing) कर दी. इसमें एक कांस्टेबल को गोली लगी है. उसकी हालत गंभीर (Critical condition) बनी हुई है.

  • Share this:
धौलपुर. राजस्थान और उत्तर प्रदेश की सीमा पर स्थित डांग क्षेत्र का धौलपुर जिला एक बार फिर गोलियों की आवाज (Gunshot) से गूंजने लगा है. यहां आज तड़के पुलिस और डकैत के बीच हुई फायरिंग (Firing) हो गई. इसमें डकैत ने पुलिस के एक कांस्टेबल को गोली मार (Shot down) दी. कांस्टेबल की हालत गंभीर बनी हुई है. उसे आगरा ले जाया गया है. घटना के बाद पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत के नेतृत्व में भारी पुलिस बल मौके पर पहुंचा है. पुलिस ने जंगल के चारों तरफ घेरा डालकर डकैत की तलाश के लिये सर्च अभियान चला रखा है.

जानकारी के अनुसार कुख्यात दस्यु केशव गुर्जर के बारे में पुलिस को रविवार को सूचना मिली थी कि वह दशहरा का त्यौहार मनाने के लिए अपने गांव सायपुर आया हुआ है. इसकी सूचना पर जिला पुलिस की स्पेशल टीम और सदर थाना बाड़ी पुलिस उसकी तलाश में निकली. पुलिस सोमवार तड़के 5 बजे सायपुर के पास स्थित मुनखुर के जंगल में पहुंची. वहां दस्यु केशव गुर्जर ने पुलिस को अपनी ओर आता देख उस पर फायरिंग शुरू कर दी. उसके बाद वह पुलिस की आखों में धूल झौंककर वहां से फरार हो गया. इसमें कांस्टेबल अवधेश को गोली लग गई. उसे स्थानीय अस्पताल ले जाया गया। वहां उसे प्राथमिक उपचार देकर तत्काल गंभीर हालत में आगरा रेफर दिया गया.

चित्तौड़गढ़ में गहरी नींद में सो रहा था परिवार, आंखें खुलीं तो आग लपटों से घिरे हुये थे, 1 की मौत, 4 झुलसे



भारी पुलिस बल के साथ पुलिस अधीक्षक पहुंचे मौके पर
घटना की सूचना मिलते ही पुलिस अधीक्षक केसर सिंह शेखावत भारी पुलिस बल के साथ स्वयं मौके पर पहुंचे. पुलिस ने डकैतों की तलाश के लिये पूरे जंगल को घेर रखा है. सर्च अभियान के जरिये डकैत की तलाश की जा रही है, लेकिन अभी तक उनका कोई सुराग नहीं लगा है. उल्लेखनीय है कि धौलपुर जिले में डकैतों का हमेशा से ही आतंक रहा है. यहां पुलिस के साथ अक्सर उनकी मुठभेड़ होती रहती है. हालांकि पिछले कुछ समय से पुलिस ने डकैतों पर नकेल डालने की कोशिश की है. इसमें वह काफी हद सफल भी रही है. लेकिन फिर भी डकैत रह-रहकर सिर उठाते रहते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज