लाइव टीवी

धौलपुर : बेखौफ बजरी माफिया ने एएसाई पर किया जानलेवा हमला, अस्पताल में भर्ती
Dholpur News in Hindi

Rakesh Singhal | News18 Rajasthan
Updated: January 25, 2020, 7:58 PM IST
धौलपुर : बेखौफ बजरी माफिया ने एएसाई पर किया जानलेवा हमला, अस्पताल में भर्ती
एएसआई पर हुए हमले के बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया. सूचना मिलते ही पुलिस उप अधीक्षक विजय कुमार सिंह पुलिस फोर्स के साथ अस्पताल पहुंचे.

अवैध चंबल बजरी की खेप डालने आए बजरी माफियाओं (Gravel Mafia) का स्टॉक देखने पहुंचे स्थानीय सैंपऊ पुलिस थाने के एएसआई पर लाठी एवं डंडों से हमला कर दिया गया. हमले में एएसआई के हाथ, पैर और सिर में गंभीर चोटें आई हैं. घायल एएसआई को ग्रामीणों द्वारा बजरी परिवहन करने वाले लोगों से बचाया गया और उन्हें सैंपऊ अस्पताल (Hospital) में भर्ती कराया गया है.

  • Share this:
धौलपुर. जिले में बजरी परिवहन (Gravel transport) करने वाले लोगों का खौफ और आतंक (Terror) थमने का नाम नहीं ले रहा है. ताजा मामला सैंपऊ थाना इलाके के बिजली घर के पीछे का है जहां अवैध चंबल बजरी की खेप डालने आए बजरी माफियाओं (Mafia) का स्टॉक देखने पहुंचे स्थानीय सैंपऊ पुलिस थाने के एएसआई राजेश सिंह पर लाठी एवं डंडों से हमला कर दिया गया. हमले में एएसआई राजेश सिंह के हाथ, पैर और सिर में गंभीर चोटें आई हैं. घायल एएसआई राजेश सिंह को स्थानीय ग्रामीणों द्वारा बजरी परिवहन करने वाले लोगों से बचाया गया और उन्हें सैंपऊ अस्पताल (Hospital) में भर्ती कराया गया है.

अस्पताल में ASI का उपचार जारी

एएसआई पर हुए हमले के बाद पुलिस विभाग में हड़कंप मच गया. सूचना मिलते ही पुलिस उप अधीक्षक विजय कुमार सिंह पुलिस फोर्स के साथ अस्पताल पहुंचे. अस्पताल में एएसआई राजेश सिंह की चोटों का एक्स-रे एवं उपचार किया जा रहा है. सिर में चोटें होने के कारण एएसआई को सीटी स्कैन कराने के लिए रेफर कर दिया गया है.

बजरी माफियाओं पर नकेल नहीं कसी जा सकी

गौरतलब है कि जिले में बजरी परिवहन करने वाले लोग बेखौफ और बेलगाम बने हुए हैं. हद की बात तो यह है कि पुलिस प्रशासन की लाख कोशिशों के बावजूद बजरी परिवहन करने वाले लोगों पर नकेल नहीं कसी जा सकी है. उसी का परिणाम है कि बजरी से भरे ट्रैक्टर ट्रॉली दिनदहाड़े न केवल हाईवे पर बल्कि घनी आबादी एवं कस्बे के बाजारों से भी बेरोकटोक गुजर रहे हैं. इस वजह से अवैध चंबल बजरी का कारोबार और इस कारोबार में लगे लोग बढ़ते जा रहे हैं.

घायल एएसआई को ग्रामीणों द्वारा बजरी परिवहन करने वाले लोगों से बचाया गया और उन्हें सैंपऊ अस्पताल में भर्ती कराया गया.


जिले के एनएच 3, एनएच 11 बी, एनएच 123 सहित अन्य सड़क मार्गों पर बजरी परिवहन करने वाले लोग पुलिस को ठेंगा दिखाते हुए इस कारोबार को परवान पर पहुंचा रहे हैं. बजरी के गोरखधंधे में खासकर तटवर्ती इलाके के लोग लिप्त हैं. पुलिस के कुछ नुमाइंदे कार्रवाई करने की जहमत उठाते हैं तो बजरी माफियाओं के हमलों का शिकार हो जाते हैं. ऐसा ही मामला सैंपऊ कस्बे की घनी आबादी में देखने को मिला, जब बजरी का स्टॉक देखने जा रहे एएसआई पर बजरी परिवहन करने वाले लोगों ने जाल बिछाया. पुलिस फोर्स का अभाव होने पर आधा दर्जन बजरी परिवहन करने वाले लोगों ने एएसआई पर जानलेवा हमला कर दिया. 

ये भी पढ़ें - पंचाय चुनाव:चेकिंग में भारी मात्रा में अंग्रेजी शराब जब्त, आंकी गई कीमत 32 लाख

ये भी पढ़ें - गणतंत्र दिवस : धौलपुर स्टेशन पर दिनभर से जारी है सघन तलाशी अभियान

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धौलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: January 25, 2020, 7:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर