BJP के पूर्व MLA ने कहा, 'कार्यकर्ता को अंगुली भी लगाई तो लाशें बिछा दूंगा', वीडियो वायरल
Dholpur News in Hindi

बयान को निर्वाचन विभाग ने गंभीरता से लेते हुए जांच करवाकर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. बुधवार को मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने जिला निर्वाचन अधिकारी नन्नूमल पहाड़िया और एसपी डीडी सिंह को जांच के निर्देश दिए हैं

  • Share this:
राजस्थान विधानसभा चुनाव में तल्ख टिप्पणियों के साथ नेताओं के बिगड़े बाेल भी सामने आने लगे हैं. पिछले दो दिनों में इसके चलते बीजेपी के दो नेताओं पर केस दर्ज हो चुके हैं. ताज मामला बाड़ी में बीजेपी के पूर्व विधायक जसवंद सिंह गुर्जर का स्वागत सम्मेलन में दिया गया बयान है, जो सोशल मीडिया पर वायरल हो गया है. जसवंत गुर्जर ने सम्मेलन में कहा था कि अगर मेरे किसी कार्यकर्ता को अंगुली लगा दिया तो मैं उसका हाथ काट दूंगा. साथ ही, यह भी कहा था कि एक भी बीजेपी कार्यकर्ता से तू कह दिया तो घर से नहीं निकलने दूंगा और लाशें बिछा दूंगा.

यहां पढ़ें- राजस्थान विधानसभा चुनाव 2018 से जुड़ी अन्य खबरें

इस बयान को निर्वाचन विभाग ने गंभीरता से लेते हुए जांच करवाकर कार्रवाई करने के निर्देश दिए हैं. बुधवार को मुख्य निर्वाचन अधिकारी आनंद कुमार ने जिला निर्वाचन अधिकारी नन्नूमल पहाड़िया और एसपी डीडी सिंह को जांच के निर्देश दिए हैं.



ये भी पढ़ें- राजस्थान में कांग्रेस के 80 नेताओं के टिकट तय! यहां देखें- पहली सूची
बता दें कि इससे पहले पंचायत राज राज्य मंत्री धनसिंह रावत ने पार्टी के सम्मलेन में धर्म के आधार पर बीजेपी को वोट देने की बात कही थी. मुस्लिम और हिंदू पार्टी वाले इस बयान के बाद रावत के खिलाफ सोमवार को केस दर्ज कर लिया गया. रावत ने कहा था कि मुस्लिम कांग्रेस के साथ् जुड़कर एक साथ मतदान कर सकते हैं तो सारे हिंदू मिलकर भाजपा के साथ क्यों नहीं जा सकते. हिंदू भी भाजपा को प्रचंड बहुमत दिलाकर जीता सकते हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज