कुख्यात डकैत जगन गुर्जर ने फिर फैलाया आतंक, महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाया

राजस्थान में चंबल के कुख्यात डकैत जगन ने गुरुवार को 2 युवतियों के कपड़े फाड़ें और फिर निर्वस्त्र कर गांव में सरेआम घुमाया और उनके साथ मारपीट भी की.

News18Hindi
Updated: June 14, 2019, 3:03 PM IST
कुख्यात डकैत जगन गुर्जर ने फिर फैलाया आतंक, महिलाओं को निर्वस्त्र कर घुमाया
फोटो- डकैत जगन गुर्जर. (फाइल फोटो)
News18Hindi
Updated: June 14, 2019, 3:03 PM IST


राजस्थान में चंबल के डांग इलाके में आंतक मचाने वाले डकैत जगन गुर्जर ने जेल से छूटने के दो दिन बाद फिर से कानून अपने हाथ में लिया है. डकैत गुर्जर ने सरेआम फायरिंग कर लोगों में दहशत फैला दी. उसने यहां के बाड़ी कस्बे में सरकारी अस्पताल के सामने बाजार में दुकानदारों से मारपीट कर तोड़फोड़ की. इस कुख्यात बदमाश ने बाद में बसईडांग थाना क्षेत्र के करणसिंह का पुरा गांव में महिलाओं और बच्चों से भी मारपीट की. इस दौरान उसने मुखबिरी के शक में महिलाओं के कपड़े फाड़कर उन्हें सरेआम निर्वस्त्र घुमाया.



पुरुष घर पर नहीं थे, डकैत ने महिलाओं के कपड़े फाड़े, निर्वस्त्र घुमाया

गांव के एक परिवार की महिलाओं के साथ हुए इस अत्याचार के दौरान घर के मुखिया लाल सिंह और अन्य पुरुष पानी की तलाश में अपने पशुओं को लेकर बाहर गए हुए थे. केवल महिलाएं और बच्चे ही घर पर थे. इस दौरान डकैतों ने धावा बोलकर महिलाओं के साथ मारपीट की और उनके कपड़े फाड़ डाले. डैकतों ने पीड़ित महिलाओं को निर्वस्त्र कर गांव में भी घुमाया.

बुधवार देर शाम हुई इस घटना में डकैत जगन गुर्जर अपने तीन साथियों के साथ गांव पहुंचा था. पुलिस ने डकैत गुर्जर और उसके साथियों पर मामला दर्ज कर लिया है.

ये भी पढ़ें- सुर्खियां: मंत्री को ACB की क्लीनचिट, आंधी-बारिश के आसार

पिछले साल जगन ने हथियारों के साथ किया था सरेंडर
Loading...


बता दें कि चंबल के डांग इलाके के कुख्यात डकैत जगन गुर्जर ने पिछले साल ही हथियार के साथ पुलिस के सामने आत्मसमर्पण किया था. गुर्जर ने बयाना थाने में पुलिस महानिरीक्षक मालिनी अग्रवाल के सामने सरेंडर किया था. तब पुलिस ने जगन को घड़ी बाजना इलाके में चारों तरफ से घेर लिया था जिसके बाद डकैत गुर्जर ने खुद हथियार डाल दिए थे.


11 लाख रुपए का इनामी डाकू रहा है जगन 



चंबल में आतंक का पर्याय रहे 11 लाख रुपये का इनामी दस्यु जगन गुर्जर इससे पहले 16 मार्च 2017 को जेल से छूट गया था. उसके बाद वो फिर से चंबल की घाटियों में चला गया था. जगन के खिलाफ धौलपुल के बसईडांग, करौली के मासलपुर और बासौदा में 5 मामले दर्ज हैं. धौलपुर के पुलिस अधीक्षक डीडी सिंह ने बताया कि डकैत पर कुल 87 मामले दर्ज थे, जिनमें हत्या, वसूली और पुलिस पर फायरिंग जैसे संगीन अपराध है.

उन्होंने बताया कि गुर्जर 87 में से 70 मामलों में रिहा हो चुका है. इसके अलावा उसपर दर्ज लगभग 12 मामले विचाराधीन चल रहे हैं. फिलहाल 5 नए मामलों में जांच चल रही थी. करौली पुलिस ने भी जगन गुर्जर पर 5 हजार रुपये का इनाम घोषित कर रखा है.

ये भी पढ़ें- 21 गवाहों ने बच्ची से रेप और हत्या के आरोपी राजकुमार को दिलाया मृत्युदंड

एक क्लिक और खबरें खुद चलकर आएंगी आपके पास, सब्सक्राइब करें न्यूज़18 हिंदी  WhatsApp अपडेट्स

Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...