लाइव टीवी

अब बीटेक और एमबीए डिग्रीधारक युवा करेंगे गांव का विकास

ETV Rajasthan
Updated: February 15, 2018, 6:56 PM IST
अब बीटेक और एमबीए डिग्रीधारक युवा करेंगे गांव का विकास
ग्राम पंचायत सचिवों के लिए प्रशिक्षण कार्यशाला आयोजित

मुख्य कार्यकारी अधिकारी रामवतार मीणा ने बताया कि नए ग्राम सचिवों को प्रशिक्षण दिया जा रहा हैं. ज्यादातर युवा एग्रीकल्चर से बीटेक हैं जो स्थिति को समझते हुए जिले के विकास में अपना योगदान प्रदान करेंगे. नव नियुक्त ग्राम सचिवों को गांव के विकास के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है.

  • Share this:
धौलपुर जिले में अब गांव का विकास बीटेक-एमबीए डिग्रीधारक युवाओं के कंधों पर होगा. जिले को 42 नए ग्राम पंचायत सचिव मिले हैं जिनमें से 15 बीटेक पास हैं. इसके अतिरिक्त 5 एमबीए, 5 यूजीसी नेटधारक भी इस फेहरिस्त में शामिल हैं.

इन नवनियुक्त ग्राम पंचायत सचिवों का जिला परिषद में प्रशिक्षण शुरू हुआ। ग्राम सचिव पद पर भर्ती के लिए न्यूनतम योग्यता इंटरमीडिएट होती हैं,लेकिन इस पद बीटेक-एमबीए डिग्रीधारक युवाओ का चयन हुआ हैं.

शिविर का शुभारंभ करते हुए जिला परिषद के मुख्य कार्यकारी अधिकारी रामवतार मीणा ने कहा कि ग्रामीण क्षेत्रों के विकास के लिए मनरेगा, मुख्यमंत्री जल स्वावलंबन अभियान,कचरा प्रबंधन आदि का तकनीकी ज्ञान जरूरी है. इसके संबंध में सभी संभागियों को इस शिविर में इसकी जानकारी दी जा रही है.

मुख्य कार्यकारी अधिकारी रामवतार मीणा ने बताया कि नए ग्राम सचिवों को प्रशिक्षण दिया जा रहा हैं.  ज्यादातर युवा एग्रीकल्चर से बीटेक हैं जो स्थिति को समझते हुए जिले के विकास में अपना योगदान प्रदान करेंगे. नव नियुक्त ग्राम सचिवों को गांव के विकास के लिए प्रशिक्षण दिया जा रहा है.

चयनित ग्राम सचिव सत्यवीर ने बताया कि मैं बयाना का निवासी हूं और मैने बीटेक कंप्यूटर ब्रांच से किया हैं. सत्यवीर ने बताया कि मैं टेक्नीकल के आधार पर गांव का विकास करूंगा, साथ ही ग्रामीणों को कंप्यूटर की जानकारी भी दूंगा. सत्यवीर ने कहा कि गांव विकसित होगा तो देश विकास होगा.

(रिपोर्ट - राकेश सिंघल)

 

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए धौलपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: February 15, 2018, 6:56 PM IST
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर