Dholpur: डकैतों के साथ विकास दुबे जैसे कुख्यात अपराधी भी लेते हैं चंबल के इन बीहड़ों में शरण

पिछले एक वर्ष में धौलपुर पुलिस ने यहां करीब 46 डकैतों को पकड़ कर उनकी ऐशगाह वाले भ्रम को तोड़ा है.

चंबल के बीहड़ और दस्युओं (डकैतों) का हमेशा से पुराना नाता रहा है. केवल दस्यु गिरोह ही नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश के कुख्यात बदमाश विकास दुबे (Vikas Dubey) जैसे खूंखार अपराधी भी बहुत सी बार पुलिस से बचने के लिए बीहड़ में शरण लेते हैं.

  • Share this:
धौलपुर. चंबल के बीहड़ और दस्युओं (डकैतों) का हमेशा से पुराना नाता रहा है. दस्यु गिरोह (Bandit gang) इन बीहड़ों में बरसों से पनाह लेते आये हैं. यहां उनका कभी एकछत्र सिक्का चलता रहा है. केवल दस्यु गिरोह ही नहीं बल्कि उत्तर प्रदेश के कुख्यात बदमाश विकास दुबे (Vikas Dubey) जैसे खूंखार अपराधी भी बहुत सी बार पुलिस से बचने के लिए बीहड़ में शरण लेते हैं. अपराधियों के लिये चंबल के ये बीहड़ मुफीद माने जाते हैं. इनके लिए एक तरफ उत्तर प्रदेश तो दूसरी और मध्यप्रदेश की सीमा अनुकूल साबित होती रही है. बरसों से राजस्थान, यूपी और एमपी के डकैतों तथा बदमाशों के आतंक के चलते चंबल के बीहड़ में अक्सर गोलियों की आवाज गूंजती रहती है.

कई राज्यों के बदमाश यहां शरण लेते हैं
मध्यप्रदेश, उत्तरप्रदेश और राजस्थान में फैले चंबल के बीहड़ों में इन तीनों राज्यों समेत हरियाणा तथा दिल्ली के बदमाशों के साथ पुलिस की मुठभेड़ होते रहना आम बात है. क्योंकि यह अपराधियों की बड़ी शरण स्थली रही है. बीते एक वर्ष में धौलपुर पुलिस ने कुख्यात दस्यु जगन गुर्जर सहित करीब 46 डैकतों के नेटवर्क को तोड़ते हुए उनको सींखचों के पीछे पहुंचा दिया है. इनमें एक दर्जन ज्यादा दूसरे राज्यों के हैं. यूपी और एमपी के साथ राजस्थान के कई जिले इनके आतंक का शिकार बनते रहे हैं.

गैंगस्टर आनंदपाल एनकांउटर की याद दिला गया विकास दुबे का मुठभेड़, जानें क्‍या था मामला

12 महीने में 46 डकैतों को पकड़ा
पिछले एक वर्ष में जिला पुलिस ने जिस तरह से डकैतों को पकड़ कर उनकी ऐशगाह वाले भृम को तोड़ा है उसकी किसी को उम्मीद नहीं थी. लोगों ने कभी सोचा भी नहीं था कि बदमाशों की शरण स्थली के रूप में पहचान वाले जिले के चेहरे से पुलिस कभी यह कलंक का टीका मिटा पायेगी. गत 12 माह के दौरान धौलपुर जिले के बीहड़ से तकरीबन 46 डाकुओं को पकड़ा गया है. इनमें अधिकांश डाकू इंटर स्टेट क्राइम करते थे. दस्यू जगन गुर्जर, पप्पू गुर्जर और लुक्का ऐसे अपराधी थे जो वारदात अन्य राज्यों में करते थे और शरण धौलपुर जिले में स्थित इन बीहड़ों में लेते थे.

Jaipur: MP में पकड़ा गया UP का मोस्ट वांटेड विकास दुबे, राजस्थान पुलिस भी थी अलर्ट मोड पर

फिलहाल तीन गिरोह सक्रिय है
पुलिस सूत्रों के अनुसार फिलहाल इन दिनों बीहड़ों में गब्बर, बैजनाथ और केशव गुर्जर के गैंग सक्रिय है. इन तीनों सरगनाओं की गैंग में लगभग दो दर्जन बदमाश हैं. उनमें से ज्यादातर को पुलिस जानती तक भी नहीं है

पढ़ें Hindi News ऑनलाइन और देखें Live TV News18 हिंदी की वेबसाइट पर. जानिए देश-विदेश और अपने प्रदेश, बॉलीवुड, खेल जगत, बिज़नेस से जुड़ी News in Hindi.