Diwali 2020: जयपुर के स्टूडेंट्स का अनोखा सेलिब्रेशन, किशनबाग बस्ती के 400 घरों को किया रोशन

जयपुर के बच्चों ने दिवाली में नेक काम किया है.
जयपुर के बच्चों ने दिवाली में नेक काम किया है.

दीपावली (Diwali 2020) में अपने और अपने परिवार के साथ खुशियां हर कोई सेलिब्रेट करता है, लेकिन राजधानी जयपुर (Jaipur) के युवाओं ने दीपावली के त्योहार को अनूठे तरीके से सेलिब्रेट करने की ठानी. अपने घरों को दीपावली से पहले सजाया लेकिन एक कच्ची बस्ती में भी रंगों की उमंग और नई रोशनी भर दी. 

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान के जयपुर (Jaipur) के विद्याधर नगर क्षेत्र की किशनबाग कच्ची बस्ती में करीब चार सौ घर हैं. जहां पर साफ सफाई के साथ ही रंगों की छटा बिखेरी है राजस्थान यूनिवर्सिटी (Rajasthan University) और विभिन्न् कॉलेजों में पढने वाले छात्रों के एक समूह ने. निकिता सिंह, प्रज्ञा भटनागर समेत 11 छात्र छात्राओं के दोस्तों के इस समूह ने दीपावली को अलग तरीके से सेलिब्रेट करने की ठानी और एक अनूठी पहल की. क्योंकि  दीपावली (Diwali 2020) पर चमचमाते शहरों में अक्सर कच्ची बस्तियों पर लोग नाक मुंह सिकोड़ते नजर आते हैं. लेकिन यहां बसने वाले लोगों की कोई सुध नहीं लेता.

इसी कारण विद्यार्थियों ने इन कच्ची बस्तियों में जाकर दीपावली से पहले एक सप्ताह में यहां की तमाम सार्वजनिक दीवारों पर रंग रोगन कर प्रेरक स्लोगन लिखे, ताकि यहां के लोगों में पॉजिटिविटी रहे और दीपावली के त्योहार इनके लिए भी फीका नहीं रहे. लिहाजा इस तरह की पहल की गई.

बच्चों ने अपने पॉकेट मनी से की साफ सफाई



इन स्टूडेंट्स ने अपनी पॉकेट मनी से बचाए पैसों से साफ सफाई और रंग रोगन का कार्य तो किया ही. साथ ही यहां दीपावाली को रोशन करने के लिए स्टूडेंट्स ने एक हजार दीये भी कच्ची बस्ती में वितरित किए. इस पहल से यहां के स्थानीय लोगों में उत्साह नजर आया. स्थानीय लोगों का कहना था कि इन बस्तियों में चुनावों के दौरान वोट पाने के लिए नेताजी आते हैं, हालांकि आर्थिक मजबूरियां जरूर हो लेकिन इन स्टूडेंट्स की इस पहल से ऐसा लगा कि वे भी मुख्यधारा से दूर नहीं.


ये भी पढ़ें: Accident in Kasganj: दिवाली की खरीदारी कर लौट रहे भाई-बहन को टैंकर ने कुचला, युवती की मौत

बस्ती की बदली सूरत

जयपुर के इन स्टूडेंट्स की कच्ची बस्ती के काया पलट करने से यहां के स्थानीय लोगों ने खुशी जताई. रंगीन इमारतों को देख लोगों ने विद्यार्थियों की हौंसला अफजाई भी की. यहां के निवासियों से मिली हौंसला अफजाई के बाद स्टूडेंट्स की इस टीम ने अब राजधानी की विभिन्न जगहों को चिन्हित किया हैं. जहां पर स्कूल, बस स्टॉप और अनेक सावर्जनिक जगहों तस्वीर बदलने की ठानी हैं. बहरहाल, कुछ नेक करने की आदत हो और किसी को तोहफा देने का दिल हो तो जरूरी नहीं कि आपके पास भी लाखों करोड़ों रुपए हो. बस कुछ देने का दिल होना चाहिए. यहीं साबित किया है इन स्टूडेंट्स ने.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज