Home /News /rajasthan /

don deva gurjar kota had two wives love each other kept karwa chauth fast together know bonding

देवा गुर्जर के साथ रहती थीं दोनों पत्नियां, मिलकर रखती थीं करवाचौथ, जानिए कैसी थी तीनों की बॉन्डिंग

सोशल मीडिया का क्रेजी देवा अपनी दोनों पत्नियों के साथ रील्स बनाकर शेयर किया करता था.

सोशल मीडिया का क्रेजी देवा अपनी दोनों पत्नियों के साथ रील्स बनाकर शेयर किया करता था.

Deva Gurjar Kota Murder Case: कोटा में गैंगवार का हाल ही में शिकार बने डॉन देवा गुर्जर ने बेटे की चाहत में दूसरी शादी रचाई थी. दोनों पत्नियों की आपस में और देवा से शानदार बांडिंग थी और वो करवाचौथ तक साथ रखती थीं. देवा की मौत के बाद उसकी पत्नियों, पर्सनल लाइफ और सोशल मीडिया के शौक की खूब चर्चा हो रही है. वह दोनों पत्नियों के साथ रील्स बनाकर शेयर किया करता था. खुद की लाइफस्टाइल और फोटो का इतना शौकीन कि वह अपने साथ एक प्रोफेशनल कैमरामैन भी रखता था. देवा का टशन ऐसा था कि वह जहां भी जाता अपनी दोनों पत्नियों के साथ लेकर जाता था. चाहे फिर बात शॉपिंग की हो या फिर मंदिर जाने की. वह तीनों हर वक्त एक साथ होते थे.

अधिक पढ़ें ...

कोटा. कोटा में हुए गैंगवार में मारा गया डॉन देवा गुर्जर सोशल मीडिया को लेकर काफी क्रेजी था. इतना ही नहीं सोशल मीडिया का क्रेजी देवा अपनी दोनों पत्नियों के साथ रील्स बनाकर शेयर किया करता था. खुद की लाइफस्टाइल और फोटो का इतना शौकीन कि वह अपने साथ एक प्रोफेशनल कैमरामैन भी रखता था. उसने सोशल मीडिया पर देवा डॉन के नाम से फैन पेज भी बना रखा था. देवा डॉन के सोशल मीडिया पर करीब दो लाख फॉलोअर्स हैं.

तभी तो सोशल मीडिया से लेकर सड़क तक लोग उसको लेकर हंगामा करने में लगे हुए हैं. राजस्थान के रावतभाटा कस्बे में गैंगवार में डॉन देवा गुर्जर की हत्या कर दी गई. देवा का अंतिम संस्कार उनके पैतृक गांव बोराबास में कर दिया गया. डॉन को अंतिम विदाई देने हजारों लोगों की भीड़ पहुंची थी.

बचपन से ही पसंद थी डॉन की लाइफस्टाइल
देवा डॉन के करीबी बताते हैं कि देवा को डॉन वाला लाइफस्टाइल बेहद पसंद था. वह बचपन से ही डॉन बनना चाहता था और वह बना भी. देवा के पास करीब 50 से ज्यादा लोगों की टीम थी. देवा सोशल मीडिया पर भी एक्टिव रहता था. वह हर प्लेटफॉर्म्स पर हर वक्त एक्टिव रहता था. लगातार स्टंट से लेकर मारपीट के वीडिया पोस्ट करता रहता. देवा की लाइफ स्टाइल कैसी थी इसका पता तो लोगों को सोशल मीडिया के जरिए लग ही गया. लेकिन हम आपको उसकी पत्नियों और पर्सनल लाइफ के बारे में बताते हैं, जिसकी इन दिनों खूब चर्चा हो रही है.

देवा की दो पत्नियां, दोनों साथ ही रखती थीं करवाचौथ
दरअसल, देवा डॉन ने दो शादियां की थीं, एक बीवी का नाम काली बाई और दूसरी का इंदिरा बाई था. दोनों पत्नियों में आपस में इतना प्रेम था कि दोनों एक साथ एक ही घर में रहती थीं. लोग बताते हैं कभी इनके बीच विवाद की कोई बात सामने नहीं आई. बल्कि दोनों का हंसता-खेलता एक ही परिवार था. दोनों सभी तीज-त्योहार यहां तक करवाचौथ तक का व्रत एक साथ सेलिब्रेट करती थीं.

क्रेजी देवा दोनों पत्नियों के साथ बनाता था रील्स
देवा का टशन ऐसा था कि वह जहां भी जाता अपनी दोनों पत्नियों के साथ लेकर जाता था. चाहे फिर बात शॉपिंग की हो या फिर मंदिर जाने की. वह तीनों हर वक्त एक साथ होते थे. इतना ही नहीं सोशल मीडिया का क्रेजी देवा अपनी दोनों पत्नियों के साथ रील्स बनाकर शेयर किया करता था. सोशल मीडिया पर देवा के करीब दो लाख फॉलोअर्स हैं.

पति को परमेश्वर मानने वाली दोनों पत्नियां बिलख रहीं
देवा को पति परमेश्वर मानने वाली उसकी दोनों पत्नियां काली बाई और इंदिरा बाई का इस वक्त बुरा हाल है. वह देवा की तस्वीर देख बिलख रही हैं. कभी अपने छोटे-छोटे बच्चों को सीने से लगाकर चुप कराती हैं तो कभी खुद ही सिसकियां मार रोने लगती हैं. जब देवा का पैतृक गांव बोराबास में अंतिम संस्कार किया गया तो उन्होंने पति की शव के चक्कर लगाकर अंतिम विदाई दी.

डॉन देवा गुर्जर की गैंगवार में ऐसे हुई हत्या
रावतभाटा क्षेत्र के कोटा बैरियर गणेश मंदिर के पास स्थित एक सैलून में सोमवार की शाम को देवा गुर्जर बैठा हुआ था. तभी कई गाड़ियों पर सवार होकर करीब डेढ़ दर्जन हथियारबंद लोग पहुंचे. देवा अभी संभलता उससे पहले ही हमलावरों ने लाठी-डंडे, फरसे व रॉड से उसे बुरी तरह से मार-मारकर जख्मी कर दिया. लोगों की सहायता से उसे गंभीर हालत में स्थानीय अस्पताल ले जाया गया, लेकिन डॉक्टर ने उसे कोटा रेफर कर दिया. परंतु उसे बचाया नहीं जा सका. क्षेत्र में भारी मात्रा में पुलिस बल तैनात कर दिया गया है.

Tags: Kota news

विज्ञापन
विज्ञापन

राशिभविष्य

मेष

वृषभ

मिथुन

कर्क

सिंह

कन्या

तुला

वृश्चिक

धनु

मकर

कुंभ

मीन

प्रश्न पूछ सकते हैं या अपनी कुंडली बनवा सकते हैं ।
और भी पढ़ें
विज्ञापन

टॉप स्टोरीज

अधिक पढ़ें

अगली ख़बर