Rajasthan News: BTP विधायक की शादी में कोरोना गाइडलाइन की उड़ी धज्जियां, 25 हजार का लगा जुर्माना, देखें VIDEO

बीटीपी विधायक राजकुमार रोत की शादी अध्यापिका गीता से हुई है.

बीटीपी विधायक राजकुमार रोत की शादी अध्यापिका गीता से हुई है.

BTP MLA Rajkumar rot's wedding in Corona era : बीटीपी विधायक राजकुमार रोत की शादी में तय संख्या से कहीं ज्यादा भीड़ उमड़ने पर प्रशासन ने उनके ससुर पर 25 हजार रुपये का जुर्माना लगाया है.

  • Share this:
जयपुर. राजस्थान के बीटीपी विधायक राजकुमार रोत की शादी (BTP MLA Rajkumar Rot's Wedding) में कोविड-19 गाइडलाइन की जमकर धज्जियां उड़ाई गईं. विधायक की शादी में गाइडलाइन के अनुसार तय संख्या से ज्यादा मेहमान एकत्र हो गए. दिशा-निर्देशों का उल्लंघन (Guideline violation) करने पर प्रशासन ने विधायक के ससुर पर 25 हजार रुपये का जुर्माना (Penalty) लगाया है. कोरोना काल में की गई विधायक की यह शादी और नियमों के उल्लंघन पर लगाए गए जुर्माने का यह मामला सोशल मीडिया में भी छाया हुआ है.

डूंगरपुर की चौरासी विधानसभा सीट से बीटीपी के विधायक राजकुमार रोत की रविवार को शादी थी. विधायक की शादी अध्यापिका गीता से हुई है. विधायक रविवार को बारात लेकर ससुराल कुशालमगरी पहुंचे तो वहां कोरोना गाइडलाइन का उल्लंघन कर भारी भीड़ उमड़ पड़ी. शादी में सैकड़ों लोग शामिल हुए. इसकी सूचना पर प्रशासन ने जांच करवाई. तय संख्या 50 से ज्यादा मेहमान पाए जाने पर विधायक के ससुर महिपाल खराड़ी पर 25 हजार रुपये का जुर्माना लगाया गया. कलेक्टर सुरेश कुमार ओला के निर्देश पर यह कार्रवाई की गई.

Youtube Video


राजस्थान में कोरोना संक्रमण बेकाबू
उल्लेखनीय है कि राजस्थान में कोरोना संक्रमण बेकाबू हो रहा है. इस पर अंकुश लगाने के लिए गहलोत सरकार ने 'जनअनुशासन पखवाड़ा' चला रखा है. इस पखवाड़े के तहत प्रदेश में एक तरह से मिनी लॉकडाउन लागू है. इस दौरान राज्य सरकार ने विवाह समारोह में शामिल होने वाले मेहमानों की संख्या और समय दोनों ही निर्धारित कर रखे हैं. वहीं, प्रदेशभर में अन्य कई तरह के प्रतिबंध लागू हैं. इसके बावजूद लोग ब्याह शादियों में नियमों का उल्लंघन करने से बाज नहीं आ रहे हैं.

गाइडलाइन में लगातार संशोधन

गहलोत सरकार आमजन की परेशानियों को देखते हुए कोरोना गाइडलाइन में लगातार संशोधन भी कर रही है, लेकिन इसका उल्लंघन करने वालों की कमी नहीं है. पुलिस और प्रशासन को नियमों को लागू करवाने में काफी पसीना बहाना पड़ रहा है. प्रदेश में गत दो-तीन से लगातार प्रतिदिन 15 हजार से ज्यादा नये पॉजिटिव केस सामने आ रहे हैं.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज