11वीं की परीक्षा में पुराने पाठ्यक्रम का दिया पेपर, हुआ निरस्त

फोटो-(ईटीवी)
फोटो-(ईटीवी)

डूंगरपुर जिले में समान परीक्षा प्रभारी की लापरवाही के चलते माध्यमिक शिक्षा विभाग की ओर से आयोजित अर्धवार्षिक परीक्षा के तहत 11वीं कक्षा के हिंदी अनिवार्य का पेपर मंगलवार को निरस्त हो गया.

  • Share this:
डूंगरपुर जिले में समान परीक्षा प्रभारी की लापरवाही के चलते माध्यमिक शिक्षा विभाग की ओर से आयोजित अर्धवार्षिक परीक्षा के तहत 11वीं कक्षा के हिंदी अनिवार्य का पेपर मंगलवार को निरस्त हो गया. शिक्षा विभाग ने अब यह पेपर 22 दिसंबर को करवाने का निर्णय लिया है.

डूंगरपुर जिले के कार्यवाहक जिला शिक्षा अधिकारी प्रकाशचंद्र शर्मा ने बताया कि मंगलवार को अर्धवार्षिक परीक्षा के तहत 11वीं कक्षा के विद्यार्थियों का हिंदी अनिवार्य का पेपर निर्धारित था, जिसके तहत जब परीक्षा समय पर पेपर खोले गए तो पाया गया कि उक्त पेपर में 60 फीसदी से ज्यादा प्रश्न पुराने पाठ्यक्रम के आधार पर थे.

इसके बाद संस्था प्रधानों की सूचना पर माध्यमिक शिक्षा विभाग की ओर से एक विषय विशेषज्ञों की समिति का गठन किया गया।.



समिति ने भी अपने जांच में माना कि पेपर निर्माण में 60 फीसदी से अधिक प्रश्न पुराने पाठ्यक्रम से शामिल किए गए हैं. ऐसे में विद्यार्थी उसे हल नहीं कर पाएंगे.
कार्यवाहक जिला शिक्षा अधिकारी ने बताया कि समिति की रिपोर्ट पर उक्त पेपर को निरस्त करते हुए अब आगामी 22 दिसंबर को पेपर करवाने का निर्णय लिया गया.

वहीं उन्होंने बताया कि पेपर निरस्तीकरण में किस स्तर पर लापरवाही हुई इसके लिए भी एक जांच टीम बनाई गई है .जांच रिपोर्ट आने पर दोषि के खिलाफ नियमानुसार कार्रवाई की जाएगी.
अगली ख़बर

फोटो

टॉप स्टोरीज