लाइव टीवी

डूंगरपुर: मासूम ने तोड़ा दम, दिल में थे 3 छेद, परिजन छोड़ गए थे लावारिस

Jayesh Panwar | News18 Rajasthan
Updated: November 1, 2019, 4:34 PM IST
डूंगरपुर: मासूम ने तोड़ा दम, दिल में थे 3 छेद, परिजन छोड़ गए थे लावारिस
मासूम गत 12 जुलाई को डूंगरपुर के जिला अस्पताल से कुछ दूर एक सोनोग्राफी सेंटर के पीछे सीढ़ियों पर लावारिस हालत में मिला था. सांकेतिक चित्र।

यह कहानी है एक ऐसे मासूम (Innocent) की जिसका जन्म होते ही परिजनों ने उसे मरने के लिए लावारिस (Unclaimed) छोड़ दिया. उसके बाद उसे शिशु गृह (Baby house) में आसरा तो मिल गया, लेकिन दिल की गंभीर बीमारी (Severe heart disease) ने जकड़ लिया.

  • Share this:
डूंगरपुर. यह कहानी है एक ऐसे मासूम (Innocent) की जिसका जन्म होते ही परिजनों ने उसे मरने के लिए लावारिस (Unclaimed) छोड़ दिया. उसके बाद उसे शिशु गृह (Baby house) में आसरा तो मिल गया, लेकिन दिल की गंभीर बीमारी (Severe heart disease) ने जकड़ लिया. इस बीमारी से जूझते (Battling) हुए साढ़े तीन माह के मासूम ने आखिरकर शुक्रवार (Friday) को दम तोड़ (Death) दिया. इस मासूम के दिल में 3 छेद (3 holes in the heart) थे.

12 जुलाई को डूंगरपुर में जिला अस्पताल के पास मिला था
समाज कल्याण विभाग, डूंगरपुर के सहायक निदेशक अशोक शर्मा ने बताया कि गत 12 जुलाई को डूंगरपुर के जिला अस्पताल से कुछ दूर एक सोनोग्राफी सेंटर के पीछे सीढ़ियों पर एक नवजात बालक लावारिस हालत में मिला था. उसके बाद चाइल्ड लाइन और पुलिस ने नवजात उसे रेस्क्यू किया और जिला अस्पताल में उसका इलाज कराया. नवजात की बाल शिशु गृह देखभाल की जा रही थी. इलाज के दौरान पता चला कि नवजात के दिल में 3 छेद है. चिकित्सकों की सलाह पर उदयपुर के अलग-अलग अस्पतालों में मासूम का इलाज करवाया गया. उसे वेंटिलेटर भी रखा गया था. चिकित्सकों की सलाह थी कि बच्चा काफी कमजोर है सर्जरी करनी पड़ेगी. थोड़ा रिकवर हो जाए उसके बाद उसका ऑपरेशन किया जाएगा.

ऑपरेशन करना तय किया गया था

चिकित्सकों ने रिकवरी होने पर दिवाली के बाद उसका ऑपरेशन करना तय किया था. ऑपरेशन में काफी समय होने के कारण शिशु गृह वाले मासूम को दिवाली से पहले वापस डूंगरपुर ले आए. इस बीच शुक्रवार को सुबह नवजात बालक की तबीयत अचानक ज्यादा बिगड़ गई. शिशु पालना गृह वाले उसे अस्पताल लेकर पंहुचे, लेकिन वहां चिकित्सकों ने जांच के बाद उसे मृत घोषित कर दिया. इससे मासूम की देखभाल करने वाले कर्मचारियों की आंखें भर आई. मासूम का शव जिला अस्पताल के मुर्दाघर में रखवाया गया है. पुलिस आगे की कार्रवाई में जुटी है.

निकाय चुनाव: प्रदेश के इस वार्ड में 9 मत पाने वाला प्रत्याशी बन जाएगा पार्षद

निकाय चुनाव: कांग्रेस में पार्षद की टिकटों का फैसला स्थानीय स्तर पर ही होगा

News18 Hindi पर सबसे पहले Hindi News पढ़ने के लिए हमें यूट्यूब, फेसबुक और ट्विटर पर फॉलो करें. देखिए डूंगरपुर से जुड़ी लेटेस्ट खबरें.

First published: November 1, 2019, 4:32 PM IST
Loading...
पूरी ख़बर पढ़ें अगली ख़बर
Loading...