होम /न्यूज /राजस्थान /

लता मंगेशकर ने दिया था राजस्थान को यह बड़ा तोहफा, निधन पर याद कर भावुक हुये लोग

लता मंगेशकर ने दिया था राजस्थान को यह बड़ा तोहफा, निधन पर याद कर भावुक हुये लोग

लता मंगेशकर ने राज सिंह के कहने पर डूंगरपुर जिला अस्पताल में 25 लाख की लागत से एक हॉल बनवाया था.

लता मंगेशकर ने राज सिंह के कहने पर डूंगरपुर जिला अस्पताल में 25 लाख की लागत से एक हॉल बनवाया था.

Lata Mangeshkar gave this big gift to Rajasthan: लता मंगेशकर का राजस्थान से गहरा रिश्ता रहा है. लता मंगेशकर की राजस्थान की बड़ी रियासत रही डूंगरपुर के पूर्व राजपरिवार के सदस्य के राज सिंह डूंगरपुर (Raj Singh Dungarpur) से काफी गहरी दोस्ती थी. राज सिंह के कहने पर लता मंगेशकर ने आदिवासी बाहुल्य डूंगरपूर जिले के जिला अस्पताल में 25 लाख रुपये की लागत से एक हॉल का निर्माण कराया था. लता मंगेशकर ने इसकी राशि राज्यसभा सांसद रहते हुये अपने सांसद निधि से दी थी.

अधिक पढ़ें ...

डूंगरपुर. सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर (Lata Mangeshkar) का आज 92 साल की उम्र में मुंबई के ब्रीच कैंडी अस्पताल में इलाज के दौरान निधन (Passes away) हो गया. लता मंगेशकर को लेकर यह बात बहुत ही कम लोग जानते हैं कि स्वर कोकिला का राजस्थान के डूंगरपुर (Dungarpur) से गहरा नाता रहा है. इसी की बदौलत लता मंगेशकर ने डूंगरपुर की जनता को आज से करीब 15 साल पहले एक खास तोहफा दिया था. लता मंगेशकर ने राज सिंह डूंगरपुर के कहने पर डूंगरपुर जिला अस्पताल में 25 लाख की लागत से एक हॉल बनवाया था. लता मंगेशकर अब नहीं रही लेकिन यह हॉल उनका डूंगरपुर के प्रति प्यार और स्नेह का प्रतीक बन गया है.

भारत रत्न लता मंगेशकर ने राजसिंह डूंगरपुर के कहने पर डूंगरपुर जिला अस्पताल में 25 लाख की लागत से एक हॉल बनवाया था. वर्ष 2007-08 में यह तैयार हुआ था. लता मंगेशकर ने राज्यसभा सदस्य रहते हुये डूंगरपुर को यह सौगात दी थी. उसमें अब एड्स निवारण केंद्र चल रहा है. कहा यह भी जाता है कि राजसिंह डूंगरपुर के 12 सितंबर 2009 को निधन के बाद लता मंगेशकर गुपचुप तरीके से एक बार डूंगरपुर भी आई थी. वे राज सिंह डूंगरपुर के अंतिम संस्कार स्थल पर गई थी लेकिन इस बारे में किसी को भनक तक नहीं लगी.

दोनों कभी रिश्ते में नहीं बंध पाये
उल्लेखनीय है कि लता मंगेशकर और डूंगरपुर के पूर्व राजपरिवार के सदस्य तथा बीसीसीआई के चैयरमेन रहे राज सिंह डूंगरपुर से अच्छे रिश्ते रहे थे. इन दोनों के बीच प्रेम प्रसंग की बाते भी सामने आई, लेकिन इसकी दोनों कभी रिश्ते में नहीं बंध पाए. राजसिंह डूंगरपुर लता मंगेशकर के भाई हृदयनाथ मंगेशकर के करीबी दोस्त थे. ऐसे में राजसिंह डूंगरपुर से उनकी मुलाकातें होती थी.

लता-राज सिंह को लेकर कभी किसी ने खुलकर नहीं कहा
राज सिंह की सुर साम्राज्ञी लता मंगेशकर से मुलाकात भी उनके ही घर पर हुई थी. समय के साथ लता मंगेशकर और राज सिंह डूंगरपुर के बीच दोस्ती गहरी होती गई. दोस्ती के बाद उनकी शादी के चर्चे भी खूब चले. बताया जाता है कि शादी को लेकर राज सिंह ने अपने परिवार के लोगों से बात भी की लेकिन शाही परिवार ने इस शादी के लिये मना कर दिया. ऐसे में दोनों शादी के बंधन में नहीं बंध सके. हालांकि उनके इस रिश्ते को लेकर कभी किसी ने खुलकर नहीं कहा.

हॉल को लेकर भावुक नजर आये लोग
आज लता मंगेशकर के निधन के बाद एक एक बार फिर से यहां उनके राज सिंह डूंगरपुर से दोस्ती को लेकर चर्चाओं का दौर शुरू हो गया है. लता मंगेशकर के निधन की सूचना के बाद आज अस्पताल में भी लोग उनकी ओर से बनवाये गये हॉल को लेकर भी भावुक नजर आये. लोगों का कहना था कि लता दीदी की ओर से आदिवासी डूंगरपुर जिले को दिया गया यह गिफ्ट सदैव याद रहेगा.

Tags: Dungarpur news, Lata Mangeshkar, Rajasthan latest news, Rajasthan news

अगली ख़बर